Monday , December 18 2017

अफ़्ग़ान तालिबान की ख़ातून की हलाकत में मुलव्विस(शामिल) होने की तरदीद

अफ़्ग़ान तालिबान ने सर-ए-आम ख़ातून को हलाक किए जाने के वाक़िया में मुलव्विस(शामिल) होने की तरदीद की है। तालिबान ने कहा कि उन्हों ने वाक़िया की तफ़तीश की,जिस से मालूम हुआ कि ख़ातून को मुक़ामी लोगों के फ़ैसला पर क़तल किया गया। ब्यान में कहा गया है कि काबुल हुकूमत के कुछ ओहदेदारों की जानिब से क़तल में तालिबान को मुलव्विस(शामिल) करने का इल्ज़ाम झूटा और बे बुनियाद है।

अफ़्ग़ान दार-उल-हकूमत के शुमाल में तक़रीबन सौ किलो मीटर दूर एक गावं में 22 साला ख़ातून को बद किर्दारी के इल्ज़ाम में मुक़ामी अवाम की मौजूदगी में गोली मार कर हलाक कर दिया गया था। अफ़्ग़ान हुक्काम ने ख़ातून के क़तल का इल्ज़ाम शिद्दत पसंदों पर आइद किया था और सदर हामिद करज़ई ने वाक़िया की मुज़म्मत करते हुए उसे ग़ैर इस्लामी फे़अल(काम) क़रार देते हुए मुलव्विस(शामिल) अफ़राद को गिरफ़्तार करने का हुक्म दिया था।

TOPPOPULARRECENT