Thursday , May 24 2018

अफ्रीकी बब्बर और चीते के जोड़े ज़ू पार्क पहुंच गए

सऊदी शहज़ादे सऊद बिन मुहम्मद अल सऊद ने बायो डाईवर्सिटी कान्फ़्रेंस COP-II के दौरान किए गए एलान के मुताबिक़ जद्दा से एक अफ्रीकी बब्बर का जोड़ा और एक अफ्रीकी चीते का जोड़ा रवाना किया जो कि गुज़िश्ता यौम हैदराबाद पहुंच गया था। मुख़्तलिफ़ कार

सऊदी शहज़ादे सऊद बिन मुहम्मद अल सऊद ने बायो डाईवर्सिटी कान्फ़्रेंस COP-II के दौरान किए गए एलान के मुताबिक़ जद्दा से एक अफ्रीकी बब्बर का जोड़ा और एक अफ्रीकी चीते का जोड़ा रवाना किया जो कि गुज़िश्ता यौम हैदराबाद पहुंच गया था। मुख़्तलिफ़ कार्यवाईयों के बाद आज इन जानवरों को नेहरू जियोलाजिकल पार्क में छोड़ दिया गया।

महकमा जंगलात के ओहदेदारों के बामूजिब शहज़ादा सऊद बिन मुहम्मद अल सऊद ने COP-II के दौरान ये एलान किया था कि वो नेहरू जियोलाजिकल पार्क को इन जानवरों का तोहफ़ा पेश करेंगे। आज मौसूला इत्तिलाआत के बामूजिब सऊदी अरब से शहर पहुंचे इन जानवरों को आज ज़ू में अवाम के मुशाहिदे के लिए छोड़ दिया गया है।

अफ्रीकी नस्ल के बब्बर और चीते की ज़ू में आमद से तवक़्क़ो की जा रही है कि ज़ू में जानवरों के मुशाहिदे के शाइक़ीन की तादाद में कुछ इज़ाफ़ा होगा। ओहदेदारों के बामूजिब सऊदी शहज़ादे की जानिब से अतीया कर्दा इन जानवरों की उमरें तक़रीबा देढ़ साल हैं।

अफ्रीकी नस्ल के बब्बर अब तक भी नेहरू जियोलाजिकल पार्क में मौजूद नहीं थे अब इन दो अफ्रीकी बब्बर के इज़ाफ़ा से नेहरू जियोलाजिकल पार्क में बब्बर की तादाद 18 तक पहुंच चुकी है। और ये बब्बर जियोलाजिकल पार्क के जानवरों में इज़ाफ़ा है।

TOPPOPULARRECENT