अब इंटरनेट नहीं आउटरनेट इस्तेमाल होगा

अब इंटरनेट नहीं आउटरनेट इस्तेमाल होगा
आपको ये पढ़ कर बहुत अजीब लग रहा होगा कि आउटरनेट क्या होता है। ये आप सभी के लिये एक खुशखबरी है। वो ये कि अगर आप अपने इंटरनेट की स्पीड या फिर उसके बिलों से परेशान हैं तो आपके लिए यह एक बहुत बड़ी खुशखबरी हो सकती है।

आपको ये पढ़ कर बहुत अजीब लग रहा होगा कि आउटरनेट क्या होता है। ये आप सभी के लिये एक खुशखबरी है। वो ये कि अगर आप अपने इंटरनेट की स्पीड या फिर उसके बिलों से परेशान हैं तो आपके लिए यह एक बहुत बड़ी खुशखबरी हो सकती है।

आपकी मालूमात के लिये अमेरीका की एक कंपनी अब आउटरनेट लॉन्च करने जा रही है। ये बताया जा रहा है इसके तहत यह कंपनी जून 2015 तक से कई सैटेलाइट खला (स्पेस ) में छोडेगा जिनके भेजे सिग्नल की मदद से ज़मीन पर रहने वाले लोग अपने कंप्यूटर और मोबाइल पर वेब सर्फिंग कर पाएंगे। बताया जा रहा है कि इंटरनेट पर बैन रखने वाले ममालिक में रहने वाले लोग भी इस वेब सर्विस को एक्सेस कर सकेंगे।

ये भी बताया जा रहा है कि हमारे घरों में लगे टीवी सेटों की तरह होगा जहां सेटेलाइट ज़मीन से सिग्नल पकडकर हमारे घरों में रखे टीवी पर भेजता है और फिर इनकी मदद से हम अपने टीवी चैनल्स पर आने वाले प्रोग्राम देखते हैं। कंपनी ने इन सेटेलाइटों को क्यूबसेट नाम दिया गया है। अब देखना ये है कि ये आउटरनेट हमारी कितनी मदद करता है और कितना सक्सेस होता है।

Top Stories