Sunday , July 22 2018

अब लोग RTI कम कर रहे है -केंद्र सरकार

सरकार ने आज कहा कि 2014.15 में आरटीआई आवेदनों की संख्या घटकर 7,55,247 हो गयी जो उसके पिछले वर्ष 8,34,183 थी और इसका एक प्रमुख कारण है कि विभिन्न विभाग और मंत्रालय अपनी जानकारी खुदी ही अपनी वेबसाइट पर सार्वजनिक कर रहे हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने पूरक सवालों के जवाब में राज्यसभा को बताया कि केंद्रीय सूचना आयोग की सालाना रिपोर्ट के अनुसार 2014.15 में कुल 7,55,247 आरटीआई आवेदन मिले जबकि 2013.14 में 8,34,183 आरटीआई आवेदन मिले थे।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि एक अप्रैल 2013 को विभिन्न सार्वजनिक प्राधिकारियों के समक्ष लंबित आवेदनों की संख्या।,28,447 थी जबकि एक अप्रैल 2014 को ऐसे आवेदनों की संख्या 30 प्रतिशत घटकर 89,785 हो गयी।

सिंह ने कहा कि आरटीआई आवेदनांे की संख्या में कमी आने का एक प्रमुख कारण अधिक संख्या में विभिन्न विभागों और मंत्रालयों द्वारा खुद ही अपनी जानकारी सार्वजनिक करना है। उन्होंने कहा कि विभाग और मंत्रालय विभिन्न जानकारी अपनी वेबसाइटों पर प्रकाशित कर रहे हैं।

कांग्रेस सदस्य रजनी पाटिल ने सवाल किया था कि क्या आरटीआई कार्यकर्ताú की हत्या जैसी घटनाएं भी आरटीआई आवेदनों की संख्या में कमी आने का कारण हैं?

TOPPOPULARRECENT