Thursday , December 14 2017

अमरीका का फ़ौजी निसाब तालीम(कोर्सेस ) इस्लाम से जंग मुअत्तल

अमरीकी फ़ौजी ओहदेदार का निसाब तालीम(कोर्सेस ) जिस में कहा गया है कि अमरीका बहैसीयत उमूमी इस्लाम का भी दुश्मन है सिर्फ दहश्तगर्दी का नहीं और बेक़सूर शहरीयों की हलाकतों की परवाह किए बगै़र आलम इस्लाम के मुक़द्दस तरीन शहरों मक्का म

अमरीकी फ़ौजी ओहदेदार का निसाब तालीम(कोर्सेस ) जिस में कहा गया है कि अमरीका बहैसीयत उमूमी इस्लाम का भी दुश्मन है सिर्फ दहश्तगर्दी का नहीं और बेक़सूर शहरीयों की हलाकतों की परवाह किए बगै़र आलम इस्लाम के मुक़द्दस तरीन शहरों मक्का मुअज़्ज़मा और मदीना मुनव्वरा पर बमबारी करके उन्हें ज़मीन दोज़ करदिया जाय,मुअत्तल करदिया गया है।

अमरीका के महि कमा दिफ़ा पेनटगान ने अप्रैल के अवाख़िर में जबकि एक तालिब-ए-इल्म ने इस मवाद पर एतराज़ किया था, ये निसाब तालीम मुअत्तल करदिया था। एफ़ बी आई ने अपने एजैंटस की तर्बीयत का निसाब तालीम(कोर्सेस ) भी तबदील करदिया था जब उसे इत्तिला मिली थी कि इस में भी इस्लाम पर तन्क़ीद की गई है।

अमरीका के एक आला सतही ओहदेदार ने कहा कि फ़ौजी कोर्स की तालीमात गुज़श्ता दस साल से यही रही हैं कि अमरीका इस्लामी इंतहापसंदों में बरसर जंग है, मज़हबी अक़ाइद से नहीं लेकिन फ़ौजी ओहदेदारों का ये निसाब तालीम(कोर्सेस ) इस आला ओहदेदार के बार बार के दावों से मुतज़ाद(उले) था।

TOPPOPULARRECENT