Monday , December 18 2017

अमरीका ने इसराईल को हथियारों का कसीर ज़ख़ीरा सरब्राह किया

अक़वामे मुत्तहिदा की जानिब से ग़ाज़ा पट्टी में उस के ज़ेरे इंतेज़ाम स्कूल पर शलबारी की मुज़म्मत करने के कुछ ही देर बाद अमरीका ने कहा कि उस ने इसराईल के जंग में इस्तेमाल शूदा दस्ती बमों और मार्टरों के ज़ख़ीरा की तकमील करदी है।

अक़वामे मुत्तहिदा की जानिब से ग़ाज़ा पट्टी में उस के ज़ेरे इंतेज़ाम स्कूल पर शलबारी की मुज़म्मत करने के कुछ ही देर बाद अमरीका ने कहा कि उस ने इसराईल के जंग में इस्तेमाल शूदा दस्ती बमों और मार्टरों के ज़ख़ीरा की तकमील करदी है।

अमरीका इसराईल की स्यानत का पाबंद है और अमरीका के क़ौमी मुफ़ादात के लिए ये बात अहमीयत रखती है कि वो इसराईल की तरक़्क़ी में उस की मदद करें। उसे मज़बूत और ख़ुद हिफ़ाज़ती के काबिल बनाए।

अमरीकी महकमा दिफ़ा के प्रैस सेक्रेट्री रीवर ऐडमिरल जान कर्बी ने कहा कि 20 जुलाई को महकमा दिफ़ा को एक मकतूब वसूल हुआ था जिस में इसराईल ने दरख़ास्त की थी कि उसे बैरूनी फ़ौजी हथियारों की फ़रोख़्त हस्बे मामूल बहाल करदी जाए। इस दरख़ास्त पर ग़ौर किया जा रहा था और 3 दिन बाद मुआहिदा पर दस्तख़त हो गए।

कर्बी ने कहा कि जंग के लिए महफ़ूज़ असलहा और गोला बारूद के ज़ख़ीरा में से इसराईल को गोला बारूद और असलहा सरब्राह किए गए हैं ताकि इस के सिर्फ़ किए ज़ख़ीरा की पाबजाई हो सके। हम्मास के तर्जुमान समीअ अबू दुहरिया ने अल अक़्सा टी वी की हिमायत की है जिस में ग़ाज़ा के शहरीयों को इंसानी ढाल के तौर पर इस्तेमाल करने का मश्वरा दिया गया था।

TOPPOPULARRECENT