Thursday , December 14 2017

अमरीका 6 पौंड वज़नी मोहलिक तरीन ड्रोनज़ सोइच ब्लेड इस्तिमाल करेगा

पेंटागोन जल्द ही पाकिस्तान में इंतिहाई छोटी जसामत और तेज़ धार आले की मानिंद मोहलिक तरीन ड्रोनज़सोइच ब्लेड इस्तिमाल करने जा रहा है।अमरीकी अख़बार लास ऐंजलिस के मुताबिक़ सिवीलियन हलाकतों की तादाद में कमी और वसीअ पैमाने पर नुक़्सान स

पेंटागोन जल्द ही पाकिस्तान में इंतिहाई छोटी जसामत और तेज़ धार आले की मानिंद मोहलिक तरीन ड्रोनज़सोइच ब्लेड इस्तिमाल करने जा रहा है।अमरीकी अख़बार लास ऐंजलिस के मुताबिक़ सिवीलियन हलाकतों की तादाद में कमी और वसीअ पैमाने पर नुक़्सान से बचावे के लिए पेंटागोन जलद जदीद टैक्नोलोजी से लैस नई जनरेशन के ड्रोनज़ को इस्तिमाल करने जा रहा है।

इस वक़्त पाकिस्तान और अफ़्ग़ानिस्तान में जिन ड्रोनज़ से कार्यवाहीयां की जा रही हैं इन में परी डीटर और रैपर किस्म के ड्रोनज़ से00पौंड के लेज़र गाईडड हल फ़ायर मिज़ाईल या00पौंड के जी पी ऐस गाईडड स्मार्ट बम गिराए जा रहे हैं। नए तेज़ धार आले के ड्रोनज़ का वज़नपोनड से भी कम है, जो इमारत को तबाह किए बगै़र मख़सूस हदफ़ को निशाना बनाएगा। ये ड्रोनज़ मैदान-ए-जंग में फ़ौजीयों को हदफ़ की निशानदेही औरउन्हें हदफ़ को दरुस्त निशाना बनाने के काबिल बनाएगा। दो फुट लंबाई उस ड्रोन के परों को नक़ल-ओ-हमलावर इस्तिमाल के बाद समेटा जा सकेगा ।

दौरान जंग फ़ौजी अपने थैले में इस ड्रोन को समेट कर ले जा सकता है।फ़ौजी अपने हाथ से कंट्रोल करेगा।ड्रोन परवाज़ के आग़ाज़ के साथ ही फ़ौरन वीडीयोज़ और दीगर मालूमात फ़राहम करना शुरू करदेगा।रवां मौसिम-ए-गर्मा में0। मुलैय्यन डालर मालियत के0से ज़ाइद सोइच ब्लेड डनामी ड्रोनज़ अफ़्ग़ानिस्तान भेजे जा रहे हैं।

गुज़श्ता बरस कई दर्जन सोइच ब्लेडज़ की तजुर्बाती परवाज़ें की गई।अख़बार के मुताबिक़ अमरीकी हुक्काम को उम्मीद है कि इन के इस्तिमाल से जंगी ज़ोन में सिवीलियन हलाकतों की तादाद कम होगी। छोटे धमाका ख़ेज़ मवाद से लैस इन हथियारों के इस्तिमाल इस बात का इशारा देता है कि इस से हदफ़ को दरुस्त निशाना बना या जाएगा।

TOPPOPULARRECENT