Wednesday , February 21 2018

अमरीकी अपार्टमेंट में बंदूक़ बर्दार की अंधा धुंद फायरिंग 6 अफ़राद हलाक

एक शख़्स ने जो अपनी माँ के साथ जुनूबी फ़्लोरीडा की अपार्टमेंट्स पर मुश्तमिल एक इमारत में मुक़ीम था, अपने मकान को नज़र-ए-आतिश कर दिया और पूरी इमारत में फायरिंग करता हुआ घूमता रहा जिस की वजह से कम अज़ कम 6 अफ़राद हलाक होगए। पुलिस ने उसे ग

एक शख़्स ने जो अपनी माँ के साथ जुनूबी फ़्लोरीडा की अपार्टमेंट्स पर मुश्तमिल एक इमारत में मुक़ीम था, अपने मकान को नज़र-ए-आतिश कर दिया और पूरी इमारत में फायरिंग करता हुआ घूमता रहा जिस की वजह से कम अज़ कम 6 अफ़राद हलाक होगए। पुलिस ने उसे गोली मारकर हलाक कर दिया।

इमारत के साकिन दहश्त ज़दा मकीनों ने 8 घंटे तवील इस दहशतनाक वाक़िये की तफ़सीलात का इन्किशाफ़ करते हुए कहा कि जब ये शख़्स अंधा धुंद फायरिंग करते हुए पूरी इमारत में घूम रहा था तो वो अमली एतेबार से अपने मकानों में बंद होगए थे और टेलीफ़ोन पर पुलिस को इत्तिला दे दी गई थी। इस के बाद उन्होंने बंदूक़ बर्दार और पुलिस के दरमियान बातचीत और फायरिंग के तबादला की आवाज़ें सुनीं। सरकारी ओहदेदारों और ऐनी शाहिदीन के बयान के बमूजब हफ़्ते की रात देर गए 42 साला पेड्रो वार्डिस ने बंदूक़ की नाल पर दो अफ़राद को यरग़माल बनालिया था और उन्हें उन के अपार्टमेंट में तीन घंटे तक हबस-ए-बेजा (बंदी) में रखा जब कि आला सतही पुलिस टीम इमारत में दाख़िल हुई और उसे गोली मारकर हलाक कर दिया। यरग़मालियों को कोई नुक़्सान नहीं पहुंचा। हैइलेश की पाँच मंज़िला इमारत के अपार्टमेंट्स में मुलाज़िम पेशा अफ़राद की अक्सरीयत है।

ये इमारत मियामी के शुमाल मग़रिबी मुज़ाफ़ात से शहर से चंद मेल के फ़ासिले पर है। हफ़्ते की शाम 6.30 बजे पुलिस को पहली टेलीफ़ोन काल वसूल हुई जिस में आतिशज़नी की इत्तिला दी गई थी। जब आतिश फ़िरौ अरकान अमला इमारत पर पहुंचे तो उन्हें फायरिंग की आवाज़ें सुनाई दीं। चुनांचे उन्होंने फ़ौरन पुलिस के लेफ़्टीनेंट कर्नल ज़ोगबी को उसकी इत्तिला दी जो हैइलेश पुलिस के तर्जुमान हैं। फायरिंग करने वाले का साबिक़ा रिकार्ड भी मुजरिमाना है। इस ने चौथी मंज़िल पर अपने अपार्टमेंट में एहतिराक़ पज़ीर स्याल छिड़क कर आग लगादी। इमारत के मुंतज़िम कामेरा पशेवटी (उम्र 69 साल) ने इस के अपार्टमेंट से धुआँ उठते हुए देखा था और पुलिस को उसकी इत्तिला दे दी थी। जब पुलिस वहां पहुंची तो वार्डिस ने अपने अपार्टमंट का दरवाज़ा खोला और अंधा धुंद फायरिंग शुरू करदी। सुराग़ रसां इस बात की तहक़ीक़ात कररहे हैं कि क्या इमारत के मुंतज़िम के साथ वार्डिस का कोई तनाज़ा था? जैसा कि वहां मुक़ीम अफ़राद का ख़्याल है। इस वाक़िये के वक़्त बंदूक़ बर्दार की माँ घर में नहीं थीं।

TOPPOPULARRECENT