Sunday , December 17 2017

अमरीकी कांग्रेस के मुशतर्का इजलास से मोदी के ख़िताब का मुतालिबा

वज़ीरे आज़म हिंदुस्तान नरेंद्र मोदी के सितंबर में दौरे से क़ब्ल 83 अमरीकी अरकाने मुक़न्निना ने अपनी दस्तख़तों पर मुश्तमिल एक मकतूब ऐवान नुमाइंदगान के स्पीकर जॉन बहनर को रवाना किया है जिस में मुतालिबा किया गया है कि नरेंद्र मोदी को अम

वज़ीरे आज़म हिंदुस्तान नरेंद्र मोदी के सितंबर में दौरे से क़ब्ल 83 अमरीकी अरकाने मुक़न्निना ने अपनी दस्तख़तों पर मुश्तमिल एक मकतूब ऐवान नुमाइंदगान के स्पीकर जॉन बहनर को रवाना किया है जिस में मुतालिबा किया गया है कि नरेंद्र मोदी को अमरीकी कांग्रेस के मुशतर्का इजलास से ख़िताब के लिए मदऊ किया जाए।

अमरीकी कांग्रेस में मोदी को मदऊ करने की आवाज़ें बुलंद होती जा रही है और पैग़ाम बिलकुल वाज़ेह है कि हिंदुस्तान और अमरीका मुनफ़रद शराकतदारी रखते हैं जिस की बुनियाद मुशतर्का जम्हूरी इक़दार पर है। नरेंद्र मोदी का दौरा एक मौक़ा है। इस शराकतदारी में वुसअत पैदा की जा सकती है।

इस तहरीक की क़ियादत ऐवान की ख़ारिजा उमूर कमेटी के रुक्न शरमीन कर रहे हैं। दरीं अस्ना हिंदुस्तान, अमरीका का जुनूबी एशिया में एक अहम शराकतदार है। हिंदुस्तान के साथ अमरीका के सियासी, मआशी और सियान्ती मुफ़ादात पूरे इलाक़ा में वाबस्ता हैं।

TOPPOPULARRECENT