Sunday , January 21 2018

‘अमरीकी जनरल’ को लोकतंत्र से ज़्यादा चिंता तख़्लापलट करने वालों की है – इर्दोआन

तुर्की के राष्ट्रपति रचेप तैय्यप इर्दोआन ने शुक्रवार को अमरीकी सेना के एक आला जनरल जोसेफ वोटल के बयान की आलोचना की और उन पर ‘तख़्तापलट की साज़िश रचने वालों का पक्ष लेने’ का आरोप लगाया है।

अमरीकी सेंट्रल कमांड के प्रमुख जनरल वोटल ने गुरुवार को कहा था कि सेना के कुछ अधिकारियों को जेल भेजने से तुर्की और अमरीका की सैन्य साझेदारी को नुक़सान हो सकता है।

तुर्की के गृह मंत्री ने शुक्रवार को बताया था कि अब तक 18 हज़ार लोगों को हिरासत में लिया गया है। जनरल वोटल ने गुरुवार को कहा था, ” निश्चित तौर पर हमारे तुर्की के कई नेताओं के साथ संबंध रहे हैं खासकर सैन्य नेताओं के साथ। मैं इस बात को लेकर चिंतित हूं कि अगर हम आगे बढ़ते हैं तो उन संबंधों पर क्या प्रभाव होगा।

राष्ट्रपति इर्दोआन ने शुक्रवार को कहा कि जनरल वोटल को लोकतंत्र को सुरक्षित रखने के लिए तुर्की को धन्यवाद देना चाहिए। राष्ट्रपति इर्दोआन ने कहा, “फ़ैसला लेना आपका काम नहीं है। आप कौन हैं? अपनी हैसियत को पहचानिए! आप तख़्तापलट की साज़िश को नाकाम करने के लिए इस देश का शुक्रिया अदा करने के बजाए तख़्तापलट की साज़िश रचने वालों का पक्ष ले रहे हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “वो (आलोचक) कहते हैं हम (तुर्की के) भविष्य को लेकर चिंतित हैं। लेकिन ये लोग किस बात को लेकर चिंतित हैं? क्या हिरासत में लिए गए लोगों और गिरफ़्तार लोगों की संख्या बढ़ेगी? अगर वो दोषी हैं तो संख्या बढ़ेगी।”

इर्दोआन ने कहा, “मेरे लोग जानते हैं कि इस योजना के पीछे कौन है। वो जानते हैं कि इसके पीछे किसका दिमाग़ है और ऐसे बयानों के ज़रिए आप ख़ुद को ज़ाहिर कर रहे हैं”

TOPPOPULARRECENT