Wednesday , January 24 2018

अमरीकी लड़ाका फ़ौजी यूनिटों में ख़्वातीन की तादाद बढ़ाने का इमकान

अमरीकी फ़ौजी इदारे ख़्वातीन को अगले मोर्चों पर लड़ाका मिशन में भेजने के साथ साथ स्पेशल ऑप्रेशन फ़ोर्सेस में शामिल करने के बारे में ग़ौर कर रहे हैं।

ये बहस एक ऐसे वक़्त हो रही है जब दो ख़्वातीन ने फ़ौज के लिए रेंजर्स की मुश्किल तर्बीयत का इम्तेहान पास कर लिया है ताहम उन्हें मुस्तक़बिल में इस से भी मुश्किल कामों से वास्ता पड़ सकता है।

अमरीकी ख़बररसां इदारे ए पी” की एक रिपोर्ट में ओहदेदारों के हवाले से बताया गया है कि इबतिदाई बहस की बुनियाद पर कहा जा सकता है कि बर्री, बहरी और फ़िज़ाई फ़ौज मुम्किना तौर पर उन ओहदों के लिए इस्तिस्ना नहीं चाहेंगी जिनमें ख़्वातीन शामिल नहीं हो सकती थीं।

ताहम ओहदेदारों का कहना है कि मरीन कोर के रहनुमाओं ने ख़्वातीन के इन्फ़ेन्रीीं फ़ोर्स में ख़िदमात अंजाम देने के हवाले से तहफ़्फुज़ात का इज़हार करते हुए कहा है कि वो इसकी नामंजूरी की दरख़ास्त करेंगे।

TOPPOPULARRECENT