Monday , December 18 2017

अमरीकी वीज़ा क़ानून में तरमीम हिंदूस्तान केलिए बेहतरीन मवाक़े

वाशिंगटन ०१ दिसम्बर (पी टी आई) अमरीका में ऐवान नुमाइंदगान ने राय दही के ज़रीया वर्कर्स के इमिग्रॆसन् वीज़ा पर हर मलिक के लिए मुक़र्रर की गई हद को ख़तम् करने की ताईद में वोट दिया जिस से हिंदूस्तान के हुनरमंद वर्कर्स को ज़्यादा से ज़्यादा

वाशिंगटन ०१ दिसम्बर (पी टी आई) अमरीका में ऐवान नुमाइंदगान ने राय दही के ज़रीया वर्कर्स के इमिग्रॆसन् वीज़ा पर हर मलिक के लिए मुक़र्रर की गई हद को ख़तम् करने की ताईद में वोट दिया जिस से हिंदूस्तान के हुनरमंद वर्कर्स को ज़्यादा से ज़्यादा फ़ायदा होने की तवक़्क़ो है।

ऐवान नुमाइंदगान ने इस बल को नदाई वोट से मंज़ूरी दे दी, जिस के तहत रोज़गार से मरबूत वीज़ा के लिए मुख़्तलिफ़ ममालिक की जो हद मुक़र्रर की गई थी उसे ख़तन कर दिया गया है। इस के इलावा फ़ी मुलक फ़ैमिली से मरबूत वीज़ा की हद को मौजूदा 7 फ़ीसद से बढ़ा कर 15 फ़ीसद किया गया।

ऐवान में बल की ताईद में ख़िताब करते हुए कांग्रेस रुकन असटीव कोहन ने कहा कि इस बल के ज़रीया रोज़गार से मरबूत ग्रीन कार्ड के लिए दरख़ास्त देने वालों की फ़ी मुलक हद ख़तन करदी गई है।

इस तरह मुख़्तलिफ़ ममालिक के हुनरमंद वर्कर्स के लिए ज़्यादा से ज़्यादा इमकानात पैदा होंगी। इस वक़्त सालाना 140,000 ग्रीन कार्ड्स की गुंजाइश है, लेकिन हर मुल़्क केलिए सिर्फ़ 7 फ़ीसद वीज़ा की हद मुक़र्रर की गई थी, जिसे अब ख़तम् कर दिया जाएगा।

पहले इख़तियार करदा तरीका-ए-कार में आम तौर पर हिंदूस्तान जैसे मुल्क में जहां आबादी ज़्यादा है, मुक़र्ररा हद का सिर्फ 7 फ़ीसद यानी 9800 वीज़ा की गुंजाइश फ़राहम की थी।

इस के बरअक्स एक छोटे आयसलैंड जिस की आबादी सिर्फ 3 लाख है, यहां भी 7 फ़ीसद यानी 9800 वीज़ा की गुंजाइश फ़राहम की जा रही थी। क़ानून में तबदीली के बाद अब हिंदूस्तान के हुनरमंद वर्कर्स केलिए ज़्यादा मवाक़े फ़राहम होंगी।

TOPPOPULARRECENT