अमिताभ की ख्वाहिश-वालिद का किरदार

अमिताभ की ख्वाहिश-वालिद का किरदार
अमिताभ बच्चन ने कहा है कि उनकी ख्वाहिश है कि वे पर्दे पर अपने वालिद और अपने दौर के मशहूर हिन्दी शायर डॉ. हरिवंश राय बच्चन का रोल अदा करें।

अमिताभ बच्चन ने कहा है कि उनकी ख्वाहिश है कि वे पर्दे पर अपने वालिद और अपने दौर के मशहूर हिन्दी शायर डॉ. हरिवंश राय बच्चन का रोल अदा करें।

अमिताभ बच्चन ने कहा कि अगर उन्हें मौका मिले, तो वे अपने वालिद के किरदार को पर्दे पर निभाना पसंद करेंगे। वो दिलीप कुमार अभिनीत ‘गंगा जमुना’ को वे सबसे बेहतरीन फिल्म मानते हैं और दिलीप साहब के किरदार को पसंद करते हैं।

अमिताभ बच्चन पिछले दिनों जब जब एक पब्लिकेशन की जानिब से मुनाक़िद तक़रीब से खिताब करने आये तो उनके हाथ में किताबें थीं और उनमें कई बुकमार्क लगे हुए थे।

अमिताभ बच्चन ने कहा कि वो हिन्दी और अंग्रेजी, दोनों जुबानों की किताबें पढ़ते हैं। शायरी की किताबें कम शाये होने की बात को कुबूल करते हुए अमिताभ बच्चन ने कहा कि किताबें इल्म मेे इजाफा करती हैं और इन्हें वही पढ़ सकता है, जो प़ढा हिखा होगा. लेकिन फिल्में अनपढ आदमी भी देख सकता है। किताबें आदमी की सबसे अच्छी दोस्त होती हैं. अमिताभ ने कहा कि फिल्मों की कोई सीमा नहीं होती है और यह लोगों को एकजुट करती हैं। फीचर फिल्मों ने तमिल, उर्दू सहित कई भारतीय ज़ुबानों की कहानियों को अपनाया है।

Top Stories