Saturday , December 16 2017

अमित‌ जेठवा हत्या मामले में पुर्व भाजपा सांसद का सीबीआई अदालत में आत्मसमर्पण

अहमदाबाद: आर टी आई कार्यकर्ता अमित‌ जेठवा के सात साल पहले हुए हत्या के माम‌ले में आरोपी और पूर्व भाजपा सांसद दीनो बूधा सोलंकी ने आज सीबीआई अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया जिसके बाद उन्हें साबरमती जेल भेज दिया गया।

जंगलाती इलाक़े में गै़रक़ानूनी कानकनी समेत अन्या मामलों में आर टी आई ऐक्ट के तहत अर्ज़ी दायर करने वाले अमित जेठवा को 20 जुलाई 2010 को यहां हाईकोर्ट के नज़दीक गोली मारकर हत्या कर दिया गया था। इस मामले में क्राईम ब्रांच ने अपनी जांच में मिस्टर सोलंकी को आरोपी नहीं बनाया था बाद में हाईकोर्ट के हुक्म पर सीबीआई की जांच के बाद कोडीनार के पुर्व‌ विधायक और जूनागढ़ के इस समय‌ के लोक सभा सदस्य मिस्टर सोलंकी को मुख्य आरोपी बनाया गया। उन्हें 2013 में गिरफ़्तार भी किया गया था। वो ज़मानत पर रिहा थे।

गुजरात हाईकोर्ट ने इस मामले में सीबीआई को नए सिरे से सुनवाई करने का इसी साल जून में आदेश दिया था। मरने वाले जेठवा के पिता की अर्ज़ी पर सुप्रीमकोर्ट ने मिस्टर सोलंकी को 48घंटे के अंदर आत्मसमर्पण करने का आदेश‌ दिया था। पार्टी के सदर अमित‌ शाह के कथित तौर पर क़रीबी रहे मिस्टर सोलंकी के भतीजे शिवा सोलंकी और मिस्टर जेठवा के हत्या समेत छः को पहले ही इस मामले में गिरफ़्तार किया गया था।

मिस्टर जेठवा के रिश्तेदारों का आरोप है कि मिस्टर सोलंकी के गै़रक़ानूनी कानकनी कारोबार का पर्दा फ़ाश करने की वजह से उनके इशारे पर मिस्टर जेठवा की हत्या की गई थी।

TOPPOPULARRECENT