Tuesday , June 19 2018

अमित शाह का पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए एलान—सपा पर रहें आक्रामक, महिलाओं पर मेहरबान 

फैसल फरीद

लखनऊ: पिछले चुनाव में भाजपा के लिए चुनौती साबित हुई पूर्वांचल की धरती पर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को ज़मीन तैयार करने की पूरी कोशिश की। मौका था जनपद महाराजगंज में परिवर्तन रैली का और संबोधन के लिए थे अमित शाह और उन्होंने मुद्दों की तलाश में भटक रहे स्थानीय भाजपा नेताओ को पार्टी लाइन पर मुद्दे बताये।

शाह ने चुनाव में सपा पर आक्रामक हमले और महिलाओ एवं किसानो को साथ लेकर चलने का मंत्र दिया। उनके भाषण में मुस्लिम औरतो को तीन तलाक से मुक्ति दिलाना, केंद्र सरकार की लाभकारी योजनाओ को प्रदेश में लागू करवाना, नोटबंदी के फायदे गिनवाना भी शामिल रहा।

बताते चले महाराजगंज जनपद में भाजपा के पास एक भी विधायक नहीं हैं। ऐसे हालात में शाह पर बड़ी ज़िम्मेदारी थी। अपने 22 मिनट के भाषण में उन्होंने सबको साधने की कोशिश की।

अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष से कार्यकर्ताओ को पार्टी लाइन पर आगे बढ़ने का मसौदा मिल गया। शाह ने साफ़ किया की मुस्लिम महिलाओ को तीन तलाक से निजात दिलाई जाये। इसके लिए उन्होंने पूरा सहयोग देने की भी बात कही।

अगला निशाना सपा रही जिसपर शाह ने आरोप लगाया की वो केंद्र की योजनाये लागू नहीं कर रही है और अव्यवस्था फैला रही हैं। कांग्रेस के राहुल भी शाह के निशाने पर रहे।

मुख्यत: शाह ने पूर्वांचल के किसानो की दुखती रग पर भी हाथ रखा। रोज़गार की समस्या और चीनी मिल का बंद होना भी मुद्दा रहा।

शाह ने महिलाओ पर ज्यादा ध्यान दिया शायद वह इस बात को समझते हैं कि आधी आबादी भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। यही नहीं शाह मंच से उतर कर महिलाओ के एक समूह के पास गए और उनसे उनकी समस्याओं के बारे में भी वार्ता की।

नोटबंदी के मुद्दे पर उन्होंने हाथ उठा कर रायशुमारी भी करवाई।

भाजपा के लिए पूर्वांचल महत्वपूर्ण है और उसके सारे ब्रांड लीडर एवं सांसद इसी क्षेत्र के गोरखपुर से आते हैं। शाह के बोल ने क्षेत्रीय कार्यकर्ताओ को चुनाव के लिए तैयार रहने को कह दिया।

TOPPOPULARRECENT