Wednesday , July 18 2018

अमेरिका आने वालों की, चरम स्थिति का परीक्षण, हिंदुओं का बेहद सम्मान: ट्रम्प

एडीसन (अमेरिका): डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि अमेरिका को अनतहापसन्दाना इस्लामी आतंकवाद के बारे में अनतहाई सावधान ” रहना होगा। देश में आने वालों को अनुमति देने से पहले उनकी ” अत्यधिक स्थिति की जांच ” होगी। रिपब्लिकन राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के इस विवादास्पद रुख ने प्रवासियों को असमंजस में पीड़ित कर दिया है। आतंकवाद से निपटने की नीति को उजागर करते हुए 70 वर्षीय अरबपति ट्रम्प ने कहा कि हमें इस्लामी आतंकवाद के बारे में बहुत सावधान रहना होगा। हम जनता के यहां आने से पहले उनकी भरपूर परीक्षण करें। हम चाहते हैं कि यहां लोग आएं लेकिन उन्हें कानूनी तौर पर यहां आए हैं। उन्होंने एनडीटीवी को यह बात कही।

जब उनसे पूछा गया कि क्या वह सभी मुसलमानों के अमेरिका में प्रवेश पर रोक का इरादा छोड़ देंगे। ट्रम्प ने कहा कुछ घटनाओं जो घटित हो रहे हैं वे सकारात्मक नहीं। हम दुनिया के कुछ क्षेत्रों में ऐसी घटनाएं आए दिन देख रहे हैं। इसलिए हमें इस्लामी आतंकवाद के बारे में बहुत सावधान रहना होगा। ट्रम्प ने कहा कि वह भारतीय जनता और हिन्दुओं का बेहद सम्मान करते हैं। उनके कई दोस्त हिन्दू हैं। वे महान लोग और जबरदस्त व्यापारी हैं। हिंदू एकता ने यहां ट्रम्प के लिए विशेष कार्यक्रम आयोजित किया था। उन्होंने भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव का भी जिक्र किया।

उन्होंने कहा कि उरी में आतंकवादी हमला हुआ जिसमें कई लोग मारे गए। उम्मीद है कि हालात ठीक हो जाएंगे। डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी हुलारा क्लिंटन ईमेल घोटाले के बारे में जब उनसे पूछा गया कि क्या वह उन्हें जेल भेज देंगे। ट्रम्प ने कहा हिलेरी ने जो कुछ कहा वह बिल्कुल अवैध है। अगर इस अपराध के समग्र समीक्षा की जाए तो निश्चित रूप से वह मुश्किल में पड़ सकती हैं। महिलाओं के बारे में अभद्र टिप्पणी से संबंधित टेप के प्रकटीकरण पर ट्रम्प ने कहा कि वह इस बारे में पहले ही कह चुके हैं और समझते हैं कि यह काफी है।

TOPPOPULARRECENT