अमेरिका और चीन के हस्तक्षेप से कश्मीर के हालात सीरिया और अफगानिस्तान जैसे होंगे- महबूबा मुफ्ती

अमेरिका और चीन के हस्तक्षेप से कश्मीर के हालात सीरिया और अफगानिस्तान जैसे होंगे- महबूबा मुफ्ती
Click for full image

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रेसिडेंट फारूक अब्दुल्ला के कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता को लेकर दिए बयान पर पलटवार किया है। महबूबा ने कहा कि अगर चीन और अमेरिका कश्मीर में हस्तक्षेप करेंगे, तो घाटी के हालात सीरिया और अफगानिस्तान जैसे हो जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘चीन और अमेरिका अपना काम करें। हमें पता है कि उन देशों की हालत क्या है, जहां अमेरिका ने हस्तक्षेप किया है। अफगानिस्तान, सीरिया या इराक के हालात हमारे सामने हैं।’ महबूबा ने कहा कि सिर्फ भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय बातचीत से ही कश्मीर मुद्दे का समाधान हो सकता है।

उन्होंने कहा कि जैसा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने लाहौर में कहा था, कश्मीर मुद्दे के समाधान के लिए भारत और पाकिस्तान को बातचीत करनी चाहिए। महबूबा ने आगे सवाल करते हुए कहा, ‘क्या फारूक अब्दुल्ला को पता नहीं है कि सीरिया और अफगानिस्तान में क्या हुआ?’

दरअसल जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रेसिडेंट फारूक अब्दुल्ला के उस बयान पर प्रतिक्रिया दे रही थीं, जिसमें उन्होंने कहा था कि अमेरिका और चीन को कश्मीर मुद्दे के समाधान के लिए दखल देना चाहिए।

फारूक ने कहा था कि वैश्विक स्तर पर भारत के कई सहयोगी देश हैं, जिनसे कश्मीर मुद्दे के समाधान के लिए मदद ली जा सकती है और सहयोगी देश भारत-पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता कर सकते हैं।

Top Stories