Tuesday , November 21 2017
Home / World / अमेरिका: ‘ट्रंप कर देंगे मुस्लिमों का सफाया’, मस्जिदों में धमकी भरे पत्र

अमेरिका: ‘ट्रंप कर देंगे मुस्लिमों का सफाया’, मस्जिदों में धमकी भरे पत्र

कैलिफोर्निया: अमेरिका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शासन काल में अब मुस्लिमों की कोई जगह नही. ऐसा कैलिफॉर्निया के तीन मस्जिदों में मिले पत्र से खुलासा हुआ है. इसमें मुसलमानों को धमकी दी गई है कि तेरे साथ वही करने जा रहे हैं जो हिटलर ने यहूदियों के साथ किया था. ऐसे घृणित पत्र क्लेयरमांट के इस्लामिक सेंटर, लॉन्ग बीच और सैन हौजे की मस्जिदों में मिले.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

 

नवभारत टाइम्स के अनुसार, पत्र में मुसलमानों को नीच और गंदे लोग बताते हुए लिखा है कि उनकी उलटी गिनती शुरू हो गई है. साथ में यह भी लिखा गया है कि शहर के नये शेर हैं डॉनल्ड ट्रंप. वह अमेरिका की सफाई कर फिर से चमकाने जा रहे हैं. यह काम वह मुसलमानों से शुरू करने जा रहा है. पत्र पर ‘अमेरिकन फॉर अ बेटर वे’ हस्ताक्षर किया गया है. इस धमकी भरे पत्र में लिखा है कि वह आप मुस्लिमों के साथ वही करने जा रहे हैं जो हिटलर ने यहूदियों के साथ किया था.
सीबीएस न्यूज के मुताबिक,, अमेरिकन इस्लामिक संबंध परिषद (सीएआईआर) ने एक सप्ताह के दौरान मिले हस्तलिखित और फोटोकॉपी पत्रों की एक प्रति जारी की है. परिषद ने ऐसे मामलों में पुलिस से सुरक्षा और उचित कार्रवाई करने का अनुरोध किया है. सीएआईआर निदेशक जाहरा बिल्लू ने सैन फ्रांसिस्को में शनिवार को जारी एक बयान में कहा कि हमने स्थानीय प्रशासन से मुसलमान समुदाय के साथ मिलकर काम करने को कहा है ताकि सभी प्रार्थना घरों की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके.
हालांकि ट्रंप ने कहा कि उन्हें इस तरह के मामलों की जानकारी नहीं है जबकि पत्र में स्पष्ट रूप से इस पुरे मामले में ट्रम्प का ही जिक्र है. अमेरिका में आठ नवंबर को हुए चुनाव के बाद से मुसलमानों, अश्वेतों, लैटिन अमेरिकियों, अप्रवासियों तथा एलजीबीटीक्यू के लोगों को पक्षपातपूर्ण ढंग से निशाना बनाने की 700 से अधिक घटनाएं हुई हैं. जबकि चुनाव के बाद नवनिर्वाचत राष्ट्रपति की तारीफ़ की जाती थी कि ट्रम्प में पदग्रहण के बाद बदलाव आया है. लेकिन वह जिस बात से जाना जाता था वह साबित कर दिया.

TOPPOPULARRECENT