Thursday , December 14 2017

अमेरिका में अब मस्जिद को आग लगा दि गई

गुरुद्वारे पर हुई अंधाधुंध फायरिंग में सात लोगों के मारे जाने की हादिसा (घटना) के दूसरे ही दिन अमेरिका में एक मस्जिद को आग लगा दी गई। इस वारदात के पीछे भी धार्मिक नफरत पर आधारित अनासिर (समूहों के लोगों) का हाथ बताया जाता है।

गुरुद्वारे पर हुई अंधाधुंध फायरिंग में सात लोगों के मारे जाने की हादिसा (घटना) के दूसरे ही दिन अमेरिका में एक मस्जिद को आग लगा दी गई। इस वारदात के पीछे भी धार्मिक नफरत पर आधारित अनासिर (समूहों के लोगों) का हाथ बताया जाता है।

अमेरिकी वेबसाइटों के मुताबिक घटना सोमावार अहले सुबह (तड़के) की है। मिसौरी के जोपलिन इस्लामिक सेंटर को तड़के करीब साढे तीन बजे आग लगा दी गई। तुरंत पुलिस और फायरफाइटर्स को खबर दी गई। इस सेंटर में आसपास रहने वाले 125 मुस्लिम नियमित नमाज अदा करते थे।

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक मस्जिद पूरी तरह मुनहदिम (नष्ट) हो गई है। मस्जिद से जुड़े सूत्रों ने इस घटना के पीछे उन समूहों का हाथ होने का संदेह जताया है जो धर्म के आधार पर नफरत फैलाना चाहते हैं। मगर अधिकारियों ने इस बारे में पूछे जाने पर कहा कि जब तक ठोस सबूत न मिल जाए तब तक वे इस बारे में कुछ नहीं कहना चाहते।

गौरतलब है कि इस घटना से दो दिन पहले शनिवार (4 जुलाई) को भी इस मस्जिद पर हमला हुआ था। उस घटना में एक नामालूम (अज्ञात) शख्स ने मस्जिद की छत पर पेट्रोल बम फेंका था जिससे मामूली नुकसान हुआ था।

एफबीआई ने इस हमले में शामिल लोगों का सुराग देने वालों को 15 हजार डॉलर इनाम देने का ऐलान किया है।

TOPPOPULARRECENT