अमेरिका में पैदा हुए प्रवासी बच्चों की नागरिकता खत्म करने की तैयारी

अमेरिका में पैदा हुए प्रवासी बच्चों की नागरिकता खत्म करने की तैयारी
Click for full image

वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक फिर इमिग्रेंट्स पर कड़ा रुख अपनाया है। अमेरिका में प्रवासी नागरिकों के बच्चों को मिलने वाली नागरिकता को खत्म करने को लेकर डोनाल्ड ट्रंप योजना बना रहे हैं। प्रवासी लोगों के बच्चों को अब अमेरिकी नागरिकता मिलेगी या नहीं इस पर भी संदेह है। अमेरिकी कानून के मुताबिक, प्रवासी नागरिकों के बच्चे अगर अमेरिका में पैदा होते हैं, तो उन्हें अमेरिकी नागरिकता मिल सकती है, लेकिन ट्रंप अब इसमें बदलाव लाने की योजना बना रहे हैं।

मिड्टर्म चुनावों को ध्यान में रखते हुए ट्रंप ने एक बार फिर अमेरिकियों का ध्यान इमिग्रेंट्स मामले पर आकर्षित किया है। ट्रंप अपनी पार्टी और कांग्रेस के साथ भी कई बार इमिग्रेंट्स के मामले में अपना सख्त रवैया अपना चुके हैं। मेक्सिको बॉर्डर पर अमेरिका स्पेशल फोर्स को तैनात किया है, जिससे कि इमिग्रेंट्स अमेरिकी सीमा में प्रवेश न कर पाए।

जन्मजात नागरिकता को रद्द करने से राष्ट्रपति के पास संविधान में संशोधन को बदलने की एकतरफा क्षमता है या नहीं, इस पर अदालत में लड़ाई होगी। अमेरिका में 14 वां संशोधन गारंटी देता है कि अमेरिका में पैदा हुए सभी बच्चों के लिए सही है।

ट्रंप के इस कदम से सबसे ज्यादा फर्क भारतीयों को पड़ने वाला है। अमेरिका में करीब 20 लाख भारतीय रहते हैं और इनमें से एक बड़ी संख्या ग्रीन कार्ड होल्डर्स और वहां काम करने वालों की है। ट्रंप के इस फैसले का असर इन लाखों लोगों के यहां जन्म लेने वाले बच्चों की नागरिकता पर पड़ सकता है

Top Stories