Wednesday , November 22 2017
Home / International / अमेरिका में भारतीय कर्मचारियों लगेगा झटका, एच1 वीज़ा पर सख्ती की तैयारी

अमेरिका में भारतीय कर्मचारियों लगेगा झटका, एच1 वीज़ा पर सख्ती की तैयारी

डोनाल्ड ट्रंप

वाशिंगटन। अमेरिका के नए राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप अब वहां काम कर रहे भारतीयों को जोर का झटका देने जा रहे हैं। अमेरिका में हाल में ही चुने गए राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की नीतियों के चलते भारतीय आईटी कंपनियों को बड़े पैमाने पर स्‍थानीय अमेरिकी नागरिकों की नियुक्ति करनी होगी।

आपको बताते चलें कि भारत की दिग्‍गज आईटी कंपनियां टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, इंफोसिस और विप्रो जैसी कंपनियां अमेरिका में एच1-बी वीजा के जरिए बड़े पैमाने पर भारत से कर्मचारियों की भर्ती करती हैं और उनहें विदेश ले जाती हैं।
अमेरिका में भारतीय कर्मचारियों को अमेरिकी लोगों की तुलना में कम वेतन पर ही रख लिया जाता है। इसलिए आईटी कंपनियां भारतीय इंजीनियरों को खूब वरीयता देती हैं।

वर्ष 2005-14 के दौरान इन तीन कंपनियों में एच1-बी वीजा पर काम करने वाले कर्मचारियों का आंकडा 86,000 से ज्‍यादा का था। अभी तक अमेरिका इतने लोगों को हर साल अमेरिका हर साल इतने लोगों को एच1-बी वीजा देता रहा है।

TOPPOPULARRECENT