Saturday , December 16 2017

अमेरिका में मुसलमानों के घुसने पे हो पाबन्दी : डोनाल्ड ट्रंप

वाशिंगटन: अमेरिका में आने वालो के लिए मज़हबी जांचो ठुकराने की प्रेसिडेंट बराक ओबामा की अपील के एक दिन बाद प्रेसिडेंट के इंतेखाब के लिए रिपब्लिकन पार्टी के मजबूत दावेदार डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका में मुसलमानों के आने पे पाबन्दी की फिर मांग है ।

हलाकि ट्रंप की इस तरह की बयान बाज़ी को दीगर दावेदारों ने खारिज कर दिया है .

ट्रंप के जारी बयान में उनका कहना है ‘जब तक हमारे मुल्क यह पता नहीं लगा लेता कि क्या चल रहा है, तब तक अमेरिका में मुसलमानों के आने पे पाबन्दी नाफिस की ।’ ट्रम्प ने प्यू रिसर्च का हवाला देते हुये कहा मुस्लिम आबादी का की एक बड़ा हिस्सा अमेरिकियों के लिए बहुत नफरत रखता है।

ट्रंप ने बयान में ये भी कहा, ‘किसी राय शुमारी को देखे बिना ही यह हर किसी के लिए जाहिर है कि अमेरिकियों के लिए नफरत समझ से परे है। यह नफरत कहां से आती है और हमें क्यों इसे निर्धारित करने की आवश्यकता है?’

उन्होंने कहा, ‘हम जब तक इस मसले और इससे पैदा होने वाले खतरे को ख़तम नहीं कर लेते और समझ नहीं लेते, तब तक हमारे मुल्क को उन लोगों के खतरनाक हमलों ख़त्म नही कर लेते है जोकि केवल जिहाद में यकीन रखते हैं और जिनका इंसानियत से दूर तक वास्ता नही है ‘

रिपब्लिकन पार्टी के दावेदारों की भीड़ में शामिल न्यूजर्सी के गवर्नर क्रिस क्रिस्टी ने और डेमोक्रेटिक पार्टी के दावेदार बर्नी सैंडर्स ने ट्रंप की उनके बयान को सिरे से खारिज किया ,क्रिस ने ट्रंप के बयान को बेहूदगी की हद बताया वही सैंडर्स ने ट्रंप को नस्ल की नज़र से देखने वाला बताया .

काउंसिल ऑन अमेरिकन इस्लामिक रिलेशंस (सीएआईआर) ने ट्रंप की मुस्लिम के खिलाफ पालिसी पे दुःख का इज़हार किया है।

TOPPOPULARRECENT