अमेरिकी कच्चे तेल पहली बार आयात, अक्टूबर डिलीवरी

अमेरिकी कच्चे तेल पहली बार आयात, अक्टूबर डिलीवरी
Click for full image

नई दिल्ली: भारत जो दुनिया का तीसरा बड़ा तेल आयातक देश है, वह अमेरिका से कच्चे तेल के आयात के लिए सर्वोच्च मामला तय कर लिया है और यह खेप अक्टूबर में भारतीय समुद्र तटों तक पहुंच जाने की उम्मीद है। सरकारी स्वामित्व इंडियन ऑयल कारपोरेशन (आईओसी) की ओर से यह मामला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे अमेरिका इंटीरियर कुछ सप्ताह सामने आया है जबकि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने यह बयान दिया था कि उनका देश भारत को ऊर्जा वाली सामान निर्यात करना चाहता है।

आईओसी डायरेक्टर (फाइनैंस) एके शर्मा ने यहां समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि हम उत्तरी अमेरिका से दो लाख बैरल कच्चे तेल खरीदा है जो सोवियत मार्स क्रूड 1.6 लाख बैरल‌ और वेस्टर्न कनाडा सिलिकेट के 4,00,000 बैरल शामिल है। सोवियत मास भारी, सल्फर अधिक मात्रा तेल मुहिया करती है जिसे आईओसी सबसे नई रिफाइनरी बमकाम प्रदीप (ओडिशा) में प्रसंस्करण से बिताया जाएगा।

Top Stories