Friday , December 15 2017

अमेरिकी पैटर्न पर भाजपा कर रही तबलीग़ : अब्दुल बारी सिद्दीकी

भाजपा अमेरिकी पैटर्न पर तबलीग कर रही है। हुंकार रैली का मतलब और मायने आवाम की समझ से बाहर है। आखिर भाजपा के लीडर किस बात की हुंकार भर रहे हैं। अगर इसके जगह पर ऐलान रैली करते, तो बात समझ में आती। रैलियों को महंगा बना दिया गया है।

भाजपा अमेरिकी पैटर्न पर तबलीग कर रही है। हुंकार रैली का मतलब और मायने आवाम की समझ से बाहर है। आखिर भाजपा के लीडर किस बात की हुंकार भर रहे हैं। अगर इसके जगह पर ऐलान रैली करते, तो बात समझ में आती। रैलियों को महंगा बना दिया गया है।

हुंकार रैली में पानी की तरह पैसा बहाया गया है उससे लगता है कि मुक़ामी पार्टी अब रैली करने को लेकर हिम्मत नहीं करेंगे। यह सब मुक़ामी पार्टियों के वजूद को आलात करने की साजिश है। यह कहना है राजद एसेम्बली रुक्न के लीडर अब्दुल बारी सिद्दीकी का। मिस्टर सिद्दीकी बताते हैं जम्हूरियत निज़ाम में किसी भी सियासी पार्टियों को अपनी बात आवाम तक पहुंचाने के लिए रैली करने का हक़ है, लेकिन जिस तरह से भाजपा ने माहौल पैदा कर दिया है उसके अच्छे इशारा सामने नजर नहीं आ रहे हैं। इससे कश्मकश की हालत पैदा हो गयी है। हुंकार रैली, गरीब रैला की मुक़ाबले में कहीं भी नहीं है, जबकि इसके लिए करोड़ों रुपये खर्च किये गये हैं।

TOPPOPULARRECENT