Monday , December 11 2017

अमेरिकी मस्जिदों को धमकी आमेज़ पत्र, इमेल्स प्राप्त

वाशिंगटन 29 नवंबर: डोनाल्ड ट्रम्प की चुनावी सफलता के बाद मुसलमानों के खिलाफ नफरत अपराधों में भयानक वृद्धि की खबरों के बीच अमेरिका की कई मस्जिदों को इस देश में रहने वाले मुस्लिम समुदाय के खिलाफ कई धमकी पत्र और इमेल्स प्राप्त हुए हैं।

कैलिफोर्निया की तीन मस्जिदों और जॉर्जिया की एक मस्जिद को मौसूला तहरीरी मकतूब में मुसलमानों को चेतावनी दी गई है कि वे अपना सामान बांध लें और देश से चले जाएं क्योंकि ट्रम्प अब अमेरिका का निस्पंदन करने वाले हैं और (अमेरिका) को फिर से चमकाएँगे। अमरीकी। इस्लामी संबंध परिषद (केर) के एग्जीक्यूटिव निदेशक एडवर्ड अहमद मचल ने दावा किया कि दिन चयन से ही मुसलमानों के खिलाफ अपमान और दिल आज़ारी में जबरदस्त वृद्धि हुई है।

उन्होंने कहा,” जिसने भी यह पत्र भेजा है उसे यह जान लेना चाहे कि इससे हमें अपने अक़ीदे पर अमल करने, अपने हुक़ूक़ की दिफ़ा करने और पड़ोसीयों के साथ ताल्लुक़ात बेहतर बनाने के लिए हमारा अज़म मुस्तहकम हुआ है।” केर लॉस एंगेल्स चैप्टर के निदेशक हुसाम ईलोश ने कहा कि ऐसे पत्र का उद्देश्य अमेरिका में मुक़ीम मुसलमानों को डराना-धमकाना है। केर ने अपने बयान में दावा किया है कि 8 नवंबर के आम चुनाव के बाद से देश में अभी भी 100 से अधिक मुस्लिम दुश्मन घटनाओं पेश आए हैं।

दक्षिणी ‘पावर्टी लॉ सेंटर ने सदारती चुनाव के बाद अमेरिका में मुसलमानों के खिलाफ 700 नफ़रतअंगेज़ वाक़ियात होने का खुलासा किया है।वाशिंगटन में पिछले सप्ताह एक मस्जिद में तोड़फोड़ की गई थी जिसके बाद कांग्रेस हिंद। अमेरीकी प्रामीला जयपाल ने कहा था कि ” मुसलमानों और अल्पसंख्यकों पर बढ़ते नफ़रतअंगेज़ हमलों पर मुझे गहरा दुख है। खासकर इबादतगाहो को निशाना बनाया जा रहा है जो अफ़सोसनाक है।”

TOPPOPULARRECENT