Saturday , December 16 2017

अमेरीका दुनिया भर के लिए उमंगों का मर्कज़ , 237 वीं यौम आज़ादी पर ओबामा का पयाम

वाशिंगटन, 5 जुलाई: (पी टी आई) अमेरीका दुनिया भर में ना सिर्फ़ एक अज़ीम मुल्क है बल्कि सारे आलम के आवाम के लिए उम्मीदों का मर्कज़ भी है जहां आज़ादी और मवाक़े दोनों फ़राहम किए जाते हैं। सदर बारक ओबामा ने अमेरीका की 237 वीं यौम आज़ादी तक़ारीब के म

वाशिंगटन, 5 जुलाई: (पी टी आई) अमेरीका दुनिया भर में ना सिर्फ़ एक अज़ीम मुल्क है बल्कि सारे आलम के आवाम के लिए उम्मीदों का मर्कज़ भी है जहां आज़ादी और मवाक़े दोनों फ़राहम किए जाते हैं। सदर बारक ओबामा ने अमेरीका की 237 वीं यौम आज़ादी तक़ारीब के मौके पर रेडीयो पयाम में ये बात कही।

4 जुलाई 1776 को वतन से मुहब्बत रखने वाले एक छोटे से ग्रुप ने ये अहद किया था कि उन्हें मुकम्मल आज़ादी हासिल रहेगी और वो किसी की गु़लामी में ज़िंदगी नहीं गुज़ार सकते। इस ग्रुप ने एक आलामीया के ज़रीया अमेरीका को उनकी हक़ीक़ी मंज़िल क़रार दिया जहां उन्हें मुकम्मल आज़ादी हासिल रहेगी।

ओबामा ने इस आलामीया के 237 साल बाद इन तमाम को ख़राज पेश किया जिन्होंने आज़ादी के हुसूल के लिए क़ुर्बानी दी। ओबामा ने कहा कि हमारी तमाम नस्लों ने मिल कर इस आज़ादी के पयाम को ना सिर्फ़ बरक़रार रखा बल्कि अमेरीका को एक ऐसा मुल्क बनाया जो दुनिया भर में अमन-ओ-आज़ादी का दिफ़ा करने वाला है।

इसके इलावा हर उस शख़्स के लिए जो आज़ादी के नज़रियात का ख़ाहां हो अमेरीका उम्मीद की किरण बना हुआ है।

TOPPOPULARRECENT