अयोध्या में फेल होने के बाद अब दिल्ली में VHP का धर्मसभा, जुटेंगे साधू- संत!

अयोध्या में फेल होने के बाद अब दिल्ली में VHP का धर्मसभा, जुटेंगे साधू- संत!

आम चुनाव का समय नजदीक आता जा रहा है और एक बार फिर से राम मंदिर निर्माण का मुद्दा गरमाता जा रहा है। इसी कड़ी में देशभर के साधु संत और हिन्दू समाज केंद्र सरकार और विपक्षी दलों पर दबाव बनाने के लिए राजधानी दिल्ली में 9 दिसंबर (रविवार) को विराट धर्मसभा करने जा रहे हैं।

इस विराट धर्मसभा का आयोजन विश्व हिन्दू परिषद (वीएचपी) के तत्वाधान में दिल्ली के रामलीला मैदान में किया जाएगा। बता दें कि इससे पहले बीते महीने ही दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में एक धर्मसभा की गई थी। जिसमें हजारों साधु-संतों ने हिस्सा लिया था।

बता दें कि विश्व हिन्दू परिषद का दावा है कि रविवार को रामलीला मैदान में लाखों की तादाद में लोग जुटेंगे। बताया जा रहा है कि देशभर से करीब पांच लाख लोग रामलीला मैदान में जुटेंगे और राम मंदिर के लिए हुंकार भरेंगे।

बता दें कि इस बाबत दिल्ली पुलिस ने अलर्ट जारी कर दिया है। कयास लगाए जा रहे हैं कि रोहतक, मेरठ और फरीदाबाद से लेकर ग्रेटर नोएडा से भारी संख्या में लोग रामलीला मैदान पहुंचेंगे।

वीएचपी का कहना है कि रामलीला मैदान की क्षमता 50-60 हजार लोगों की है लेकिन रविवार को पांच लोग शामिल होंगे। बताया जा रहा है कि रामलीला मैदान आने वाले लोग लाल किला और राजघाट की तरफ से पैदल ही सभा स्थल तक पहुंचेंगे।

बता दें कि इस धर्मसभा का मकसद सरकार पर दबाव बनाना है कि राम मंदिर निर्माण के लिए संसद में अध्यादेश लाया जाए। जबकि इससे पहले सरकार ने साफ कर दिया है कि वह शीतकालीन सत्र में राम मंदिर को लेकर अध्यादेश नहीं लाएगी।

बल्कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार करेगी। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट इस मामले की सुनवाई जनवरी से करेगी। लेकिन देशभर के साधु-संतों और हिन्दू समाज ने साफ कर दिया है कि मंदिर के लिए अब देरी नहीं की जाएगी। सरकार कानून के जरिए रास्ता प्रशस्त करें।

मालूम हो कि दिल्ली पुलिस ने रविवार की रैली को देखते हुए अलर्ट जारी कर दिया है और कहा है कि किसी भी तरह की अनहोनी से बचने के लिए पांच हजार सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया जाएगा।

साभार- ‘पत्रिका’

Top Stories