अयोध्या में मंदिर मस्जिद से कोई छेड़छाड़ नहीं होगी: मायावती

अयोध्या में मंदिर मस्जिद से कोई छेड़छाड़ नहीं होगी: मायावती
Click for full image

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने कहा है कि उनकी सरकार बनने पर अयोध्या के मंदिर मस्जिद से संबंधित सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने पर इसे लागू किया जाएगा। मायावती ने यहां बसपा संस्थापक काशी राम की 10 वीं बरसी पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि राज्य विधानसभा एलेक्शन के बाद अगर उनकी सरकार बनी और अयोध्या के मंदिर मस्जिद विवाद का फैसला आया तो सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर हर हाल में पालन किया जाएगा लेकिन इससे पहले अयोध्या में मन्दिर मस्जिद से कोई छेड़छाड़ नहीं होगी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उल्लेखनीय है कि 30 सितंबर 2010 को मायावती के शासनकाल में इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ अदालत की विशेष पीठ के आए फैसले के दौरान पूरे राज्य में शांति क़ायम रहा. उस समय राज्य सरकार ने संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए थे।
बसपा सुप्रीमो ने उत्तर प्रदेश के पिछड़े होने का मुख्य कारण इस विवाद के बढ़ने को बताया और कहा कि उनकी सरकार बनी तो इस विभाजन के लिये केंद्र केंद्र पर दबाव बनाया जाएगा. पूर्वांचल और बुंदेलखंड के विकास पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि संग्रहालय और यादगार बनाने का काम उनकी पिछली सरकार में ही पूरा कर लिया गया है, इसलिए अब पूरा जोर विकास और कानून व्यवस्था पर ही होगा।

Top Stories