Monday , November 20 2017
Home / Politics / अयोध्या में रामायण म्यूजियम बनाम चुनावी म्यूजियम के लिए 151 करोड़ मंजूर

अयोध्या में रामायण म्यूजियम बनाम चुनावी म्यूजियम के लिए 151 करोड़ मंजूर

फैजाबाद: केंद्र सरकार ने अयोध्या में एक रामायण म्यूजियम स्थापित करने की घोषणा की है और 151 करोड़ रूपए भी मंजूर किए हैं, लेकिन जिलाधिकारी सहित अन्य अधिकारियों को जमीन के बाबत केंद्र की तरफ से कोई सुचना नहीं मिली है. इस से प्रतीत होता है कि कहीं यह चुनावी म्यूजियम तो नहीं है? इसके लिए अब तक न तो किसी जमीन की पहचान की है, और न ही राज्य सरकार ने कोई जमीन आवंटित की है.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

ETV के ख़बरों के अनुसार, फैजाबाद के अतिरिक्त जिलाधिकारी विनोद कुमार ने कहा, “हमारे पास इस बारे में कोई सूचना नहीं है. मैं कल से ही इस बारे में (केंद्रीय पर्यटन मंत्री महेश शर्मा की ओर से प्रस्तावित संग्रहालय की जमीन के निरीक्षण के बारे में) सुन रहा हूं. मैं अभी इस मुद्दे पर कुछ नहीं कह सकता.’’
फैजाबाद के जिलाधिकारी विवेक ने बताया कि जिले के अधिकारियों को जमीन के बाबत केंद्र की तरफ से कोई पत्र नहीं मिला है.जमीन के बारे में केंद्र सरकार की तरफ से हमें कोई औपचारिक संवाद प्राप्त नहीं हुआ है. जब भी हमें इस बारे में बताया जाएगा तो हम मामले को देखेंगे.

इस बीच प्रस्तावित संग्रहालय के लिए जमीन के ‘‘निरीक्षण’’ के लिए यहां आए डॉ महेश शर्मा ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि सरयू नदी के किनारे जमीन मिल जाएगी.
आप को बता दें कि 2017 में यूपी में विधान सभा का चुनाव होने जारहा है उस के मद्दे नज़र म्यूजियम का निर्माण,सर्जिकल स्ट्राइक और तीन तलाक के मुद्दों को उभारना, चुनावी लाभ का हिस्सा है.

TOPPOPULARRECENT