Sunday , December 17 2017

अरकान मुक़न्निना की तनख़्वाहों में दोगुने इज़ाफ़ा की तजवीज़

तेलंगाना हुकूमत अरकाने असेंबली‍ ओ‍ कौंसिल की तनख़्वाहों में इज़ाफे पर संजीदगी से ग़ौर कर रही है। चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ की तरफ से इस सिलसिले में महिकमा फाइनैंस के ओहदेदारों से तजावीज़ तलब की गई और आला सतह पर तनख़्वाहों में इ

तेलंगाना हुकूमत अरकाने असेंबली‍ ओ‍ कौंसिल की तनख़्वाहों में इज़ाफे पर संजीदगी से ग़ौर कर रही है। चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ की तरफ से इस सिलसिले में महिकमा फाइनैंस के ओहदेदारों से तजावीज़ तलब की गई और आला सतह पर तनख़्वाहों में इज़ाफे के सिलसिले में इक़दामात को क़तईयत दी जा रही है।

बावसूक़ ज़राए ने बताया कि आला ओहदेदारों की रिपोर्ट की बुनियाद पर तवक़्क़ो हैके चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ अंदरून तीन यौम इस सिलसिले में कोई फ़ैसला करेंगे। हुकूमत अवामी नुमाइंदों की तनख़्वाहों में इज़ाफे के अलावा तेलंगाना से ताल्लुक़ रखने वाले अरकान-ए-पार्लियामेंट में दिए जाने वाले अलाव नस में इज़ाफे का मंसूबा रखती है।

फ़िलवक़्त अरकाने असेंबली-ओ-कौंसिल की तनख़्वाह बिशमोल अलाउंस 95 हज़ार रुपये है। हुकूमत उसे बढ़ाकर 2 लाख रुपये करने का मंसूबा रखती है। इस इज़ाफे से सरकारी ख़ज़ाने पर 150 करोड़ रुपये का ज़ाइद बोझ आइद होगा।

ज़राए के मुताबिक़ हुकूमत वुज़रा की तनख़्वाहों और अलाउंस में इज़ाफ़ा पर ग़ौर कर रही है। अरकाने असेंबली और वुज़रा की तनख़्वाहों में इज़ाफे की सूरत में साबिक़ अरकाने असेंबली-ओ-कौंसल के वज़ीफ़ा में इज़ाफे के इमकानात बढ़ चुके हैं।

हाल ही में साबिक़ अरकाने असेंबली-ओ-कौंसल ने चीफ़ मिनिस्टर चन्द्रशेखर राव‌ से पैंशन में इज़ाफे के लिए नुमाइंदगी की थी। वो अरकाने असेंबली की तरह तिब्बी सहूलतों की फ़राहमी और मकानात के लिए अराज़ी अलॉट करने का मुतालिबा कर रहे हैं। वाज़िह रहे कि तेलंगाना की तशकील के बाद चीफ़ मिनिस्टर से तनख़्वाह में इज़ाफे के लिए अरकाने असेंबली और कौंसिल की जानिब से मुसलसिल नुमाइंदगी की जा रही थी।

TOPPOPULARRECENT