Wednesday , December 13 2017

अरब लीग: ईरान में सऊदी मिशनों पर हमलों की मुज़म्मत

A general view shows Arab foreign ministers during an emergency meeting of Arab foreign ministers in the Egyptian capital Cairo on January 10, 2016. Arab League chief Nabil al-Arabi accused Tehran of "provocative acts" as top Arab diplomats met for talks on Saudi Arabia's diplomatic row with Iran. AFP PHOTO / KHALED DESOUKI

अरब लीग के वुज़राए ख़ारिजा ने ईरान में सऊदी अरब के सिफारती मिशनों पर हमलों की मुज़म्मत की है और तेहरान हुकूमत पर इल्ज़ाम आयद किया है कि वो इन सिफारती मिशनों के तहफ़्फ़ुज़ में नाकाम रही थी।

अरब लीग के वुज़राए ख़ारिजा के क़ाहिरा में मुनाक़िदा हंगामी इजलास के बाद जारी कर्दा आलामीए में बहरैन में ईरान के पासदाराने इन्क़िलाब से वाबस्ता एक जंगजू ग्रुप बेनक़ाब होने की भी मुज़म्मत की गई है।

बहरैनी हुक्काम ने इस जंगजू ग्रुप को हाल ही में पकड़ा है। अरब लीग के इजलास में लेबनान के सिवा तमाम रुक्न ममालिक के वुज़राए ख़ारिजा ने ईरान के ख़िलाफ़ मुज़म्मती बयान की मंज़ूरी दी है मगर लेबनानी वज़ीरे ख़ारजा ने ईरान की हिमायत याफ़्ता ताक़तवर शीया मिलिशिया हिज़्बुल्लाह के दबाव के पेशे नज़र उस के हक़ में वोट नहीं दिया है।

ताहम बयान में ईरान के ख़िलाफ़ किसी इजतिमाई इक़दाम पर इत्तिफ़ाक़ नहीं किया गया है। अलबत्ता तंज़ीम की एक छोटी कमेटी क़ायम की गई है जो सऊदी अरब और ईरान के दरमयान तनाज़े से पैदा होने वाले बोहरान पर बात-चीत जारी रखेगी और मुस्तक़बिल में ईरान मुख़ालिफ़ मुम्किना इक़दामात के हवाले से तबादले ख़्याल करेगी।

TOPPOPULARRECENT