Thursday , December 14 2017

अलबदर के दो मुश्तबा अरकान के ख़िलाफ़ अदालती कार्रवाई जारी

ममनूआ दहशतगर्द तंज़ीम अलबदर के दो मुश्तबा अरकान के ख़िलाफ़ अदालती कार्रवाई जारी रहेगी। उनके पास से 2006 में हथियारों और धमाको मादों का ज़बरदस्त ज़ख़ीरा ज़ब्त किया गया था।

ममनूआ दहशतगर्द तंज़ीम अलबदर के दो मुश्तबा अरकान के ख़िलाफ़ अदालती कार्रवाई जारी रहेगी। उनके पास से 2006 में हथियारों और धमाको मादों का ज़बरदस्त ज़ख़ीरा ज़ब्त किया गया था।

दिल्ली की एक अदालत ने कहा कि इख़तेतामी रिपोर्ट जो सी बी आई ने दाख़िल की है, ज़ेर-ए‍इलतेवा रखते हुए सुप्रीम कोर्ट की जानिब से दिए हुए तीन मुतबादिल तरीक़ों में से कोई एक तरीक़ा इख़तेयार करते हुए इस मुक़द्दमे की यकसूई करेगी।

सुप्रीम कोर्ट ने तहत की अदालत को हिदायत दी है कि या तो मुल्ज़िमों की बरी करदेने की दरख़ास्त क़बूल की जाये या हिदायत दी जाये कि मुक़द्दमे की कार्रवाई अज़रूए क़ानून या मज़ीद तहक़ीक़ात तक जारी रखी जाएगी।

अगर अदालत तहक़ीक़ात के किसी भी अहम पहलू से मुतमइन ना हो। दिल्ली पुलिस के ख़ुसूसी शोबे ने अलबदर के मुश्तबा अरकान मआरिफ़ क़मर और इरशाद अली मुतवत्तिन कश्मीर के ख़िलाफ़ फ़र्द-ए-जुर्म पेश करदी है उन्हें शुमाली दिल्ली की जी टी करनाल रोड से फ़रव‌री 2006 में मक़बरा चौक के मुक़ाम पर गिरफ़्तार किया गया था। लेकिन दावा किया था कि उन्हें जम्मू-ओ-कश्मीर से आने वाली एक बस से दो पिस़्तौलों के साथ गिरफ़्तार किया गया है।

TOPPOPULARRECENT