Wednesday , December 13 2017

अलाहिदा तेलंगाना पर कांग्रेस का सियासी खेल

कांग्रेस ज़ेर क़ियादत मर्कज़ी यू पी ए हुकूमत की मुरत्तिब करदा आंध्र प्रदेश की तंज़ीम जदीद मुसव्वदा बिल 2013 को ग़लत बिल ग़लत क़रार देने वाली रियासती हुकूमत ( किरण कुमार रेड्डी की ज़ेर क़ियादत कांग्रेस हुकूमत ) को बरसर-ए-इक्तदार रहने का अख़लाक़ी

कांग्रेस ज़ेर क़ियादत मर्कज़ी यू पी ए हुकूमत की मुरत्तिब करदा आंध्र प्रदेश की तंज़ीम जदीद मुसव्वदा बिल 2013 को ग़लत बिल ग़लत क़रार देने वाली रियासती हुकूमत ( किरण कुमार रेड्डी की ज़ेर क़ियादत कांग्रेस हुकूमत ) को बरसर-ए-इक्तदार रहने का अख़लाक़ी हक़ नहीं है।

यहां रियासती क़ानूनसाज़ असेंबली में आंध्र प्रदेश की तंज़ीम जदीद मुसव्वदा बिल 2013 ( तेलंगाना मुसव्वदा बिल ) पर जारी मुबाहिस में हिस्सा लेते हुए चंद्रा शेखर रेड्डी रुकने असेंबली तेलुगु देशम पार्टी तेलंगाना फ़ोर्म ने मज़कूरा बात कही और बताया कि मज़कूरा बिल ख़ुद कांग्रेस पार्टी ने ही मुरत्तिब की और कांग्रेस हुकूमत को ही रवाना की है।

लेकिन रियासती कांग्रेस हुकूमत के चीफ मिनिस्टर और वुज़रा आख़िर क्यूं इस बिल की मुख़ालिफ़त कर रहे हैं ? उसकी वज़ाहत करने की ज़रूरत पर ज़ोर देते हुए कहा कि जब ये बिल आ जाने की इत्तेला थी तो पार्टी से मुस्ताफ़ी ना होकर आख़िर पार्टी में ही क्यूं बरक़रार हैं।

उन्हों ने कहा कि साल 2004 में तेलुगो देशम पार्टी ने मुत्तहदा रियासत के मौक़िफ़ पर बरक़रार रहते हुए चुनाव में हिस्सा लिया था और कांग्रेस पार्टी ने अलाहिदा रियासत तेलंगाना के लिए क़ायम करदा पार्टी तेलंगाना राष़्ट्रा समीति के साथ इंतिख़ाबी मुफ़ाहमत करके कामयाबी हासिल करनेवाली कांग्रेस पार्टी से दरख़ास्त किया कि अलाहिदा रियासत तेलंगाना तशकील क्यूं नहीं दी।

जबकि अलाहिदा रियासत तेलंगाना की तशकील का मुतालिबा इलाके तेलंगाना अवाम का एक देरीना ख़ाब और ख़ाहिश है और किसी तशद्दुद के बगैर बड़े पैमाने पर एक तवील अर्सा से अलाहिदा रियासत तेलंगाना जद्द-ओ-जहद जारी रही।

अलाहिदा रियासत तेलंगाना की तशकील किसी की हार जीत का मसला हरगिज़ नहीं है। लिहाज़ा बिल को जल्द से जल्द रवाना करने की ख़ाहिश की ताकि आइन्दा माह फरवरी के पहले हफ़्ते में अलाहिदा रियासत तेलंगाना की तशकील होसके।

TOPPOPULARRECENT