अली जाह पर मॆ क़ुतुब शाही मस्जिद को ख़तरा

अली जाह पर मॆ क़ुतुब शाही मस्जिद को ख़तरा
हैदराबाद । १४ । फरवरी: लोधे वाड़ी अली जाह पर मैं गनबद इन क़ुतुब शाही की बैरूनी दीवार से मुत्तसिल एक क़ुतुब शाही दौर की मस्जिद को एक ग़ैर मुस्लिम ने अपने मकान में छिपा दिया । इस बात की इत्तिला मिलते ही उसमान बिन मुहम्मद अलहाजरी सदर द

हैदराबाद । १४ । फरवरी: लोधे वाड़ी अली जाह पर मैं गनबद इन क़ुतुब शाही की बैरूनी दीवार से मुत्तसिल एक क़ुतुब शाही दौर की मस्जिद को एक ग़ैर मुस्लिम ने अपने मकान में छिपा दिया । इस बात की इत्तिला मिलते ही उसमान बिन मुहम्मद अलहाजरी सदर दक्कन वक़्फ़ प्रॊपर्टीज़ प्रोटेक्शन सोसाइटी ने अपने साथीयों के हमराह इस मुक़ाम का दौरा किया । जहां ये देख कर तमाम लोगों को काफ़ी हैरत हुई कि इस तरह लैंड गराबर ने मस्जिद के मीनारों को शहीद करते हुए इस मस्जिद की कमानों को चुनवात हुए इस तरह उस की प्लाटिंग की कि किसी को ये मस्जिद नज़र भी आजाए तो इस को पहचान ना हो सके ।

इस के इलावा ये मस्जिद भी इसी क़ुतुब शाही मस्जिद रेज़ के बिलकुल चंद मीटर के फ़ासले पर है जहां लैंड गिरा बरस ने गनबद इन क़ुतुब शाही में शाही मय्यतों की तदफ़ीन के लिए जनाज़ों के लिए बनाया गया बाब अलद अखिला है जिस को लैंड गिरा बरस मंसूबा बंद तरीक़े से बंद करते हुए नाजायज़ कर लिए हैं ।

ये मस्जिद गनबद इन क़ुतुब शाही के जुनूब में दीवार के बाहर वाक़्य है । उसमान अलहाजरी और साथीयों ने इस नाजायज़ क़बज़े और नाजायज़ तामीराती सरगर्मीयों के ख़िलाफ़ मिसिज़ पी वाणी सीतापति अस्सिटैंट डायरैक्टर गनबद इन क़ुतुब शाही से नुमाइंदगी की और मुतालिबा किया कि मस्जिद पर से नाजायज़ क़बज़े को फ़ोरा बर्ख़ास्त किया जाय और मस्जिद की अराज़ी पर जारी नाजायज़ तामीराती सरगर्मीयों पर फ़ौरी रोक लगाते हुए इस को मुनहदिम किया जाय और लैंड गिरा बरस के ख़िलाफ़ महिकमा आरक्योलोजी ऐक्ट 1958 के इलावा आरक्योलोजी अमीनड मिनट ऐक्ट आफ़ 2010 के तहत कार्रवाई की जाय ।

बादअज़ां उसमान अलहाजरी और उन के साथीयों ने वक़्फ़ बोर्ड पहूंच कर जनाब ख़ुसरो ब्याबानी चीरमन वक़्फ़ बोर्ड और जनाब एम ए ग़फ़्फ़ार चीफ़ ऐगज़ीक्यूटिव ऑफीसर से मुलाक़ात करते हुए तहरीरी नुमाइंदगी की और मुतालिबा किया कि नाजायज़ तामीरात को फ़ोरा मुनहदिम किया जाय और मस्जिद को नमाज़ों की अदायगी के लिए लैंड गिरा बरस के नाजायज़ क़बज़ा बर्ख़ास्त किया जाय । इस वफ़द में जनाब एम ए बासित साबिक़ा कारपोरीटर दूध बावली , जनाब सय्यद क्रीम उद्दीन शकील ऐडवोकेट , जनाब मक़बूल बिन अबदुल्लाह अलहाजरी , जनाब मुहम्मद इनायत तवक्कली शामिल थे ।।

Top Stories