Thursday , December 14 2017

अलैहदा तेलंगाना के लिए टी आर एस के कांग्रेस में इंज़िमाम(एकीकरण) की शर्त?

हैदराबाद 17 जुलाई, ( सियासत न्यूज़) क्या कांग्रेस हाईकमान ने अलहदा तेलंगाना रियासत की तशकील के लिए टी आर एस के कांग्रेस में इंज़िमाम(एकीकरण) की शर्त रखी है?। टी आर एस के हलक़ों में इस सिलसिला में मुबाहिस जारी हैं।

हैदराबाद 17 जुलाई, ( सियासत न्यूज़) क्या कांग्रेस हाईकमान ने अलहदा तेलंगाना रियासत की तशकील के लिए टी आर एस के कांग्रेस में इंज़िमाम(एकीकरण) की शर्त रखी है?। टी आर एस के हलक़ों में इस सिलसिला में मुबाहिस जारी हैं।

पार्टी क़ाइदीन अगरचे इस बारे में खुल कर कुछ भी कहने से गुरेज़ कर रहे हैं ताहम उन्हों ने इस बात का इशारा दिया कि कांग्रेस हाईकमान अपनी हिक्मत-ए-अमली के ज़रीया टी आर ऐस क़ियादत को इंज़िमाम के लिए मजबूर करने की कोशिश कर रही है।

वाज़ेह रहे कि सदर टी आर ऐस चन्द्र शेखर राव ने साबिक़ में ऐलान किया था कि अगर कांग्रेस पार्टी अलहदा तेलंगाना रियासत तशकील देगी तो वो अपनी पार्टी को ग़ैर मशरूत तौर पर कांग्रेस में ज़म करदेंगे। ताहम बाद में पार्टी क़ाइदीन की मुख़ालिफ़त के बाद चन्द्र शेखर राव ने अपना मौक़िफ़ तबदील कर दिया।

उन्हों ने कहा कि तेलंगाना रियासत की तशकील के बावजूद टी आर एस का वजूद बाक़ी रहेगा और अलहदा रियासत की तरक़्क़ी के लिए वो अपना रोल अदा करेगी। बताया जाता है कि कोर कमेटी के हालिया इजलास के बाद भी कांग्रेस की क़ियादत ने टी आर एस से रब्त क़ायम किया और इंज़िमाम से मुताल्लिक़ मौक़िफ़ जानने की कोशिश की।

चन्द्र शेखर राव ने इस मसला पर पार्टी क़ाइदीन हत्ता कि तेलंगाना जे ए सी के क़ाइदीन से भी मुशावरत की। बाद में उन्हों ने तेलूगूदेशम रुक्न असेंबली वीनूगोपाल चारी की पार्टी में शमूलीयत के मौक़ा पर ऐलान कर दिया कि अलहदा तेलंगाना रियासत में टी आर एस का वजूद बरक़रार रहेगा और कांग्रेस में इंज़िमाम का सवाल ही पैदा नहीं होता।

मसला को टालने से मुताल्लिक़ कांग्रेस हाईकमान की हिक्मत-ए-अमली को देखते हुए टी आर एस के हलक़ों में उलझन पाई जाती है। चन्द्र शेखर राव भी नई दिल्ली की सरगर्मीयों पर नज़र रखे हुए हैं और वो ताज़ा तरीन तबदीलीयों के बारे में मीडीया का सामना से गुरेज़ कररहे हैं।

इसी दौरान के सी आर के एक बाएतिमाद क़ाइद ने कहा कि टी आर एस को किसी भी सूरत में कांग्रेस में ज़म नहीं किया जाएगा और अलहदा रियासत की तशकील कांग्रेस के लिए अब एक मजबूरी बिन चुकी है और उसे किसी भी सूरत अलहदा रियासत की तशकील का ऐलान करना पड़ेगा।

TOPPOPULARRECENT