Saturday , September 22 2018

अल्पसंख्यक समाज के छात्रों को सक्षम बनाना सरकार का मकसद- अब्दुल गफूर

पटना। अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री अब्दुल गफूर ने कहा कि सरकार अल्पसंख्यक समाज से आने वाले छात्रों को सक्षम बनाने को संकल्पित है। प्रतियोगिता परीक्षाओं में इस वर्ग के छात्र अधिक-से-अधिक संख्या में सफल हों, इसके लिए उनके विशेष कोचिंग की व्यवस्था की गयी है। गफूर हज भवन में कक्षपालों की शारीरिक परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग कर रहे अल्पसंख्यक छात्र-छात्राओं के बीच बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि कोचिंग से माइनरिटी समाज के छात्र-छात्राओं को फायदा हो रहा है। हम उन्हें सफल बनाने के साथ-साथ बेहतर इंसान बनने में भी मदद कर रहे हैं। कोचिंग की व्यवस्था करने के पीछे बेरोजगार युवकों को रोजगार के लायक बनाना है। छात्र-छात्राओं को मुफ्त रहने-खाने के साथ-साथ उनके लिए ट्रेनर की भी व्यवस्था की गयी है।

इस मौके पर विभाग के प्रधान सचिव आमिर सुबहानी ने कहा कि माइनरिटी छात्रों को बेहतर कोचिंग मिल रही है। इससे उन्हें भारी खुशी हुई है. हमारी कोशिश है कि अल्पसंख्यक छात्रों के बीच सफलता का प्रतिशत बढ़ाया जाये। अल्पसंख्यक छात्रों को अब एक साथ कई तरह की कोचिंग दी जा रही है। पटना के अलावा राज्य के बड़े शहरों में भी अल्पसंख्यक छात्रों के लिए ऐसी कोचिंग की व्यवस्था हो, इसका प्रयास किया जा रहा है। हमारी कोशिश है कि बच्चों को बैंक, रेलवे और एसएससी आदि प्रतियोगिता परीक्षाओं की भी कोचिंग दी जा सके।

कोचिंग का कार्यक्रम अल्पसंख्यक कल्याण विभाग एवं मौलाना मजहरुल हक अरबी एवं फारसी विश्वविद्यालय के तत्वाधान में हज भवन में चलाया जा रहा है। फिलहाल वहां बीपीएससी के लिए 90 और जेलों में तैनात होने वाले कक्षपाल पद की शारीरिक परीक्षा के लिए सौ छात्र-छात्राओं को कोचिंग दी जा रही है।

TOPPOPULARRECENT