Saturday , December 16 2017

अल्लामा ताहिरुल-क़ादरी लॉंग मार्च पर रवाना

तहरीक मिनहाजुल-क़ुरआन के सरबराह अल्लामा ताहिरुल-क़ादरी लाहौर से ईस्लामाबाद की तरफ़ लॉंग मार्च पर रवाना हो गए हैं। रवाना होने से पहले अल्लामा ताहिरुल क़ादरी ने मीडिया से बात करते हुए अपने लॉंग मार्च को जम्हूरियत मार्च का नाम दिय

तहरीक मिनहाजुल-क़ुरआन के सरबराह अल्लामा ताहिरुल-क़ादरी लाहौर से ईस्लामाबाद की तरफ़ लॉंग मार्च पर रवाना हो गए हैं। रवाना होने से पहले अल्लामा ताहिरुल क़ादरी ने मीडिया से बात करते हुए अपने लॉंग मार्च को जम्हूरियत मार्च का नाम दिया।

उन्होंने जुमेरात को कोइटा में हुए बम धमाकों पर बलूचिस्तान हुकूमत की बरतरफ़ी का मुतालिबा भी किया। लॉंग मार्च में इस वक़्त मियार-ए-पाकिस्तान पहुंचा है और ईस्लामाबाद की जानिब रवाना हुआ है। इस मार्च में लोगों की तादाद के बारे में मुख़्तलिफ़ अंदाज़े सामने आ रहे हैं।

लॉंग मार्च की स्कियोरिटी के लिए पंजाब पुलिस और रेंजरज़ के ओहदेदार ताय्युनात किए गए हैं। तहरीक मिनहाजुल-क़ुरआन के सरबराह ताहिर उल-क़ादरी ने ख़बररसां एजेंसी राईटर्ज़ से बात करते हुए कहा हमारा एजंडा सिर्फ़ और सिर्फ़ इंतिख़ाबी इस्लाहात हैं। हम क़ानून की ख़िलाफ़वरज़ी करने वाले अफ़राद को मुल्क का क़ानून बनाने की इजाज़त नहीं देना चाहते।
राईटर्ज़ के मुताबिक़ मुक़ामी टी वी चैनल्ज़ के मुताबिक़ ताहिर उल-क़ादरी के लॉंग मार्च में शरीक होने के लिए हज़ारों अफ़राद उन की रिहायश गाह के बाहर जमा हुए जहां से वो बसों के ज़रीये ईस्लामाबाद के लिए रवाना हुए।

ख़बररसां एजेंसी ए एफ़ पी के मुताबिक़ ताहिर उल-क़ादरी के इंतिख़ाबी इस्लाहात के मुतालिबे पर अमलदर आमद के लिए शुरू किए जाने वाले लॉंग मार्च में शिरकत के लिए हज़ारों अफ़राद जमा हैं।

ए एफ़ पी के मुताबिक़ लाहौर में सैंकड़ों गाड़ियों, बसों और ट्रकों पर सवार सात हज़ार के क़रीब अफ़राद लाहौर से इस्लामाबाद की जानिब रवाना हो गए हैं।

TOPPOPULARRECENT