अल्लाह कहने पर मुस्लिम फ़ैमिली को जहाज से उतारा

अल्लाह कहने पर मुस्लिम फ़ैमिली को जहाज से उतारा
Click for full image

अमेरिका में एक मुस्लिम दंपति को हवाई जहाज से सिर्फ इसलिए उतार दिया दया क्योंकि उन्होंने अपनी बातों में ‘अल्लाह’ कह दिया. जी हां, पाकिस्तानी मूल के एक अमेरिकी दंपति ने यह दावा किया है कि विमान में एक क्रू मेंबर उनके ‘अल्लाह’ कहने, पसीने निकलने और फोन पर एसएमएस करने से असहज महसूस कर रही थी.

नाजिया और फैसल अली नाम के इस दंपति ने डेल्टा एयरलाइंस पर आरोप लगाया कि पेरिस से ओहायो के सिनसिनाटी जाने के दौरान इस्लामोफोबिया के कारण उन्हें विमान से उतार दिया गया. दरअसल 34 साल की नाजिया ने अपने जूते उतार दिए थे, अपने अभिभावकों एसएमएस भेज दिया था और हेडफोन लगाए हुई थी. वह अपने पति फैसल के साथ डेल्टा एयरलाइंस के विमान में पेरिस से नौ घंटे का सफर कर सिनसिनाटी जाने के लिए अपनी सीट पर बैठ चुकी थी तभी विमान की एक क्रू मेंबर उन दोनों के पास पहुंची.

द सिनसिनाटी इन्क्वायरर ने खबर दी कि विमान के एक क्रू सदस्य ने पायलट से शिकायत की थी कि वह मुस्लिम दंपति से असहज महसूस कर रही है. उसने कथित तौर पर पायलट से कहा कि महिला सिर पर स्कार्फ बांधे हुए है और फोन का इस्तेमाल कर रही है और व्यक्ति को पसीना आ रहा है. दूसरी तरफ विमान परिचालक ने यह भी दावा किया कि फैसल ने अपना फोन छिपाने की कोशिश की थी और उसने दंपति को ‘अल्लाह’ शब्द का इस्तेमाल करते सुना.

Top Stories