अल-अज़हर यूनिवर्सिटी में शिया और सुन्नी मुसलमानों को नजदीक लाने की कवायद

अल-अज़हर यूनिवर्सिटी में शिया और सुन्नी मुसलमानों को नजदीक लाने की कवायद

मिस्र : मिस्र के अल-अज़हर विश्वविद्यालय के एक प्रोफ़ेसर शेख़ अहमद करीमा ने कहा है कि जारी महीने के अंत तक विश्वविद्यालय में शिया और सुन्नी मुसलमानों को नजदीक लाने के केन्द्र का औपचारिक तौर से उद्घाटन हो जाएगा। अल-अज़हर में धर्मशास्त्र के प्रोफ़ेसर करीमा ने बताया कि यह केन्द्र समस्त इस्लामी मतों के अनुयाईयों को निकट लाने विशेष रूप से शिया और सुन्नी मुसलमानों के बीच मतभेदों को दूर करने की कोशिश करेगा।

उन्होंने कहा कि इस केन्द्र द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में न केवल मुसलमानों को आपस में निकट लाने का प्रयास किया जाएगा, बल्कि मुसलमानों और ईसाईयों के बीच एकता एवं आपसी समझ को बढ़ावा दिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि विश्व और इलाक़े में आले सऊद द्वारा प्रायोजित वहाबी एवं तकफ़ीरी विचारधारा के फैलने से मुसलमानों के बीच आपस में और अन्य धर्म के अनुयाईयों के साथ सौहार्द को बड़ा झटका लगा है और हिंसात्मक विचारों को बल मिला है। इस प्रकार के कट्टरपंथी विचारों का मुक़ाबला करने के लिए ईरान और मिस्र जैसे देशों ने पहल की है।

Top Stories