Friday , December 15 2017

अवामी शिकायात का ऑनलाईन इंदिराज

ज़िला के अवाम के देरीना मसाइल की यकसूई के लिए ज़िला कलेक्टर टी के श्रीदेवी ने ख़ुसूसी तवज्जा देते हुए वसूल होने वाली शिकायात को ऑनलाईन पर दर्ज करने का आग़ाज़ क्या।

ज़िला के अवाम के देरीना मसाइल की यकसूई के लिए ज़िला कलेक्टर टी के श्रीदेवी ने ख़ुसूसी तवज्जा देते हुए वसूल होने वाली शिकायात को ऑनलाईन पर दर्ज करने का आग़ाज़ क्या।

शिकायत कनुंदा अपने मुक़ाम से ही अपने मसाइल और शिकायात से ज़िला इंतेज़ामीया को वाक़िफ़ करवाते हुए हल करवा सकता है। इसके लिए एक ख़ुसूसी वैब साईट www.prajwani.telangana.gov.in तैयार की गई है। 2 फरवरी को मुनाक़िद हुए परजावानी प्रोग्राम में इस नए सिस्टम का आग़ाज़ किया गया जिस के ज़रीये ताहाल 560 दरख़ास्तें वसूल हुईं जिस में से 30 दरख़ास्तों की फ़ौरी यकसूई करदी गई जबकि 155 मुस्तर्द करदिए गए। बाक़ी दरख़ास्तें तन्क़ीह के मरहले में हैं।

ज़िला कलेक्टर ने जायज़ा मीटिंग तलब करके ओहदेदारों को हिदायत दी कि ऑनलाईन के ज़रीये वसूल होने वाली दरख़ास्तों की फ़ौरी यकसूई की जाये और अवाम के मयारी ज़िंदगी में बेहतरी के लिए इक़दामात करें। वेलफेयर स्कीमात को मुस्तहक़्क़ीन तक पहूँचाने में कोई कसर बाक़ी ना रखें।

उन्होंने बाज़ ओहदेदारों की तरफ़ इशारा करते हुए कहा कि कई मर्तबा हिदायत देने के बावजूद अहदयादर सुस्ती और लापरवाही का मुज़ाहरा कर रहे हैं। उनके साथ सख़्ती से निमटा जाएगा। उन्होंने ज़िला के अवाम से अपील की के वो बुनियादी मसाइल और शिकायात वैब साईट पर पेश करें।

TOPPOPULARRECENT