Sunday , May 20 2018

अश्विन के बैरूनी ममालिक मुज़ाहिरे तशवीशनाक

जुनूबी अफ्रीका के ख़िलाफ़ जोहांसबर्ग में पहले टेस्ट में 44 ओवर्स की बौलिंग के बावजूद हिंदुस्तान के नंबर एक स्पिन्नर रवी चंद्रन अश्विन विकेट हासिल करने में नाकाम रहे, हालाँकि सचिन तेंदुलकर के 200 वीं टेस्ट में अपने केरिय‌र की 100 वीं विक

जुनूबी अफ्रीका के ख़िलाफ़ जोहांसबर्ग में पहले टेस्ट में 44 ओवर्स की बौलिंग के बावजूद हिंदुस्तान के नंबर एक स्पिन्नर रवी चंद्रन अश्विन विकेट हासिल करने में नाकाम रहे, हालाँकि सचिन तेंदुलकर के 200 वीं टेस्ट में अपने केरिय‌र की 100 वीं विकेट लेते हुए अश्विन टेस्ट क्रिकेट में विकटों की सैंचुरी स्कोर करने वाले हिंदुस्तान के तेज़ तरीन बोलर साबित हुए थे।

उनके इस कारनामा पर कई खबरें और मज़ामीन शाय हुए लेकिन इसके फ़ौरी बाद जुनूबी अफ्रीका के ख़िलाफ़ पहले टेस्ट में अश्विन बेबस बोलर साबित हुए। बैरूनी ममालिक अश्विन के मुज़ाहिरे तशवीशनाक है जिस पर टीम के साबिक़ खिलाड़ियों के इलावा माहिरीन ने भी मनफ़ी तन्क़ीद की है जैसा कि हिंदुस्तानी टीम के साबिक़ कप्तान गंगोली ने कहा कि अश्विन हिंदुस्तान में मुसलसल विकटें हासिल कर रहे हैं जबकि बैरूनी ममालिक में उनके मुज़ाहिरे मायूस कुन ही नहीं बल्कि टीम इंतिज़ामिया केलिए तशवीश का बाइस है।

गंगोली ने साबिक़ स्पिनर अनील कुंबले का हवाला देते हुए कहा कि कुंबले टेस्ट मुक़ाबला के पहले दिन एक सिरे से 25 ओवर्स की बौलिंग करने के इलावा 50 रन‌ के बदले दो खिलाड़ियों को आउट करते हुए दूसरे सिरे से फ़ास्ट बोलरों केलिए काम आसान करते थे लेकिन अश्विन इस तरह की ज़िम्मेदारी निभाने में नाकाम हैं।

ऑस्ट्रेलिया में भी अश्विन 166 ओवर्स में सिर्फ़ 9 विकटें हासिल कर पाए थे। अपने केरिय‌र के दौरान अश्विन 59 गेंदों में फ़ी विकेट हासिल करने का रेकॉर्ड रखते हैं जबकि हिंदुस्तान से बाहर वो 140 गेंदों में एक विकेट हासिल करते हैं।

TOPPOPULARRECENT