Monday , December 18 2017

असदुल्ला को पूछताछ के लिए हैदराबाद लाया गया

इंडियन मुजाहिदीन के बानी यासीन भटकल के साथी असदुल्ला अख्तर को कौमी जांच एजेंसी (एनआईए) हफ्ते को ट्रांजिट वॉरंट पर हैदराबाद लेकर पहुंची। उसे 21 फरवरी को हैदराबाद में हुए बम धमाके की जांच के सिलसिले में लाया गया है। ज़राए ने बताया कि

इंडियन मुजाहिदीन के बानी यासीन भटकल के साथी असदुल्ला अख्तर को कौमी जांच एजेंसी (एनआईए) हफ्ते को ट्रांजिट वॉरंट पर हैदराबाद लेकर पहुंची। उसे 21 फरवरी को हैदराबाद में हुए बम धमाके की जांच के सिलसिले में लाया गया है। ज़राए ने बताया कि एनआईए के आफीसरअसदुल्ला ऊर्फ हड्डी को भदौरपुरा में कुछ मुकामात पर ले गई, जहां वह मुबय्यना तौर पर कुछ लोगों के साथ रुका था और बम बनाया था।

असदुल्ला ने तफ्तीशकारों को हैदराबाद के उन मुकामात की इत्तेला दी, जहां वह धमाका करने से पहले गया था। शहर के दिलसुखनगर बाजार में हुए दो धमाके में 18 लोगों की मौत हो गई थी। एनआईए इस बात की भी जांच कर रही है कि कहीं दहशतगर्दाना वाकिया में असदुल्ला और भटकल को मुकामी मदद तो नहीं मिली थी।

मुल्क के मुख्तलिफ हिस्सों में हुए धमाको में मुबय्यना तौर पर शामिल रहे भटकल और असदुल्ला को 28 अगस्त को हिंद -नेपाल सरहद से बिहार पुलिस ने गिरफ्तार किया था। एनआईए इसके बाद दोनों को पूछताछ के लिए दिल्ली लेकर आई थी।

माना जा रहा है कि दोनों ने दिलसुखनगर धमाको में अपने किरदार को कुबूल कर लिए है। दोनों ने मुब्य्यना तौर पर दो साइकिलों में धमाखा खेज मवाद् नसब किये थे। हैदराबाद पुलिस के मुताबिक, सीसीटीवी में नजर आए दो मुश्तबा अफराद का चेहरा भटकल और असदुल्ला से मिलता है।

TOPPOPULARRECENT