Wednesday , December 13 2017

असम्बली में अरकान की बड़ी तादाद गैरहाज़िर‌

हैदराबाद। १५ मार्च (सियासत न्यूज़) रियास्ती क़ानूनसाज़ असैंबली में आज अरकान की गैरहाज़िरी से ज़िमनी इंतिख़ाबात का असर साफ़ तौर पर दिखाई दे रहा था। असम्बली में सुबह से ही सिर्फ़ चंद वुज़रा शरीक थी। अप्पोज़ीशन और बरसर-ए-इक़तिदार ज

हैदराबाद। १५ मार्च (सियासत न्यूज़) रियास्ती क़ानूनसाज़ असैंबली में आज अरकान की गैरहाज़िरी से ज़िमनी इंतिख़ाबात का असर साफ़ तौर पर दिखाई दे रहा था। असम्बली में सुबह से ही सिर्फ़ चंद वुज़रा शरीक थी। अप्पोज़ीशन और बरसर-ए-इक़तिदार जमात के बेशतर अरकान असम्बली ऐवान से गैरहाज़िर थी। ख़ाली नशिस्तों के साथ ऐवान की कार्रवाई शुरू हुई लेकिन तेलगू देशम के एहतिजाज के बाइस एजंडे के मुताबिक़ कार्रवाई आगे ना बढ़ सकी।

बताया जाता है कि सात असम्बली हलक़ों के ज़िमनी इंतिख़ाबात में दोनों बड़ी जमातों ने अपने अरकान को मशग़ूल कर दिया ही। कांग्रेस की जानिब से वुज़रा को इंतिख़ाबी मुहिम का निगरान कार मुक़र्रर किया गया, गैर हाज़िर अरकान में ज़्यादा तर तेलंगाना के अरकान थी। जो इंतिख़ाबात मुहिम में मसरूफ़ हैं। तलगो देशम के तक़रीबन तमाम तलंगाना अरकान आज इजलास में नज़र नहीं आई। तवक़्क़ो है कि पैर से असैंबली का इजलास मुकम्मल रहेगा, क्योंकि उस वक़्त तक ज़िमनी इंतिख़ाबात की राय दहीमुकम्मल होजाएगी और तलंगाना राष़्ट्रा समीती के अरकान भी असैंबली वापिस होंगी।

* रियास्ती वज़ीर-ए-सनअत जय गीता रेड्डी को आज उस वक़्त अप्पोज़ीशन के एहतिजाज का सामना करना पड़ा जब वो वकफ़ा-ए-सवालात में पहले सवाल का जवाब देने केलिए खड़ी हुईं। तेलगू देशम‌ पार्टी ने सुप्रीम कोर्ट की जानिब से नोटिस का सामना करने वाले तमाम छः वुज़रा के असम्बली में बाईकॉट का फ़ैसला किया। आज कार्रवाई के आग़ाज़ के साथ ही वकफ़ा-ए-सवालात में पहला सवाल डाक्टर जय गीता रेड्डी का था। वो जैसे ही जवाब देने केलिए उठीं , तेलगू देशम‌ अरकान ने ज़बरदस्त शोर-ओ-गुल किया और इसी के दौरान उन्हों ने तहरीरी जवाब पढ़ कर सुनाया। गीता रेड्डी इस ग़ैर मुतवक़्क़े एहतिजाज से परेशान होगईं और उजलत में तहरीरी जवाब पढ़ने लगीं, ताहम स्पीकर ने अप्पोज़ीशन केएहतिजाज को देखते हुए गीता रेड्डी को जवाब देने से रोक दिया।

TOPPOPULARRECENT