असम चुनाव: बीजेपी और कांग्रेस में कांटे की टक्कर:

असम चुनाव: बीजेपी और कांग्रेस में कांटे की टक्कर:

images

गुवाहाटी ।माना जा रहा है,असम विधानसभा चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिलस कती है।नॉर्थ-ईस्ट के इस सूबे में साल 2001 से ही कांग्रेस की हुकूमत है। यहां 4 और 11 अप्रैल को दो चरणों में चुनाव होने है। असम विधानसभा में टोटल 126 सीटे हैं और लोकसभा चुनाव के नतीजों को देखते हुए कहा जा सकता है बीजेपी और कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिल सकती है। लोकसभा चुनाव में बीजेपी को 14 लोकसभा सीटों में से सात मिली थीं जबकि कांग्रेस को सिर्फ तीन पर ही जीत हाशिल हुई थी।

वहीं, 2011 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने अकेले 78 सीटें जीती थीं जबकि बीजेपी को सिर्फ पांच सीटों से ही इत्मिनान करना पड़ा था। इसके बाद बीजेपी ने सूबे में अपनी हालात मजबूत करने के लिए स्थानीय पार्टियों जैसे असम गण परिषद (एजीपी) और बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट (बीपीएफ) से गठजोड़ किया। बीजेपी और ये दोनों पार्टियां राज्य में बांग्लादेशी घुसपैठियों के आने का इलज़ाम लगाती रही हैं।

जैसे ही राज्य में चुनाव की तारीखों का ऐलान किया गया, बीजेपी की ओर से मुख्यमंत्री पद के दावेदार सर्बानंद सोनोवाल ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कड़ी मेहनत करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि हमें असम के लोगों के आशीर्वाद की जरूरत है ताकि हम राज्य में एक सकारात्मक बदलाव ला सकें। सर्बानंद फिलहाल बीजेपी सरकार में खेलमंत्री हैं।सियासी ताकत को मजबूत करने के लिए सभी पार्टिया कमर कस लेना चाहती है।फिलहाल हुकूमत में कांग्रेस है इसलिए इस लड़ाई में सभी को कांग्रेस से ही लड़ना है। वही तरुण गोगोई ने बराक घाटी के लिए 3,000 करोड़ के पैकेज का ऐलान किया।

Top Stories