असम: भाजपा के इकलौते मुस्लिम विधायक को धमकी, पार्टी छोड़ो नहीं तो मार दिए जाओगे

असम: भाजपा के इकलौते मुस्लिम विधायक को धमकी, पार्टी छोड़ो नहीं तो मार दिए जाओगे
Click for full image

असम में बीजेपी के इकलौते मुस्लिम विधायक अमीनुल हक लश्‍कर को पार्टी नहीं छोड़ने पर जान से मारने की धमकी दी गई है. पुलिस ने मंगलवार को बताया कि अमीनुल को पत्र भेजकर धमकी दी गई है कि 15 दिन में पार्टी से इस्‍तीफा दे दो नहीं तो मार दिए जाओगे. वह कचर जिले की सोनाई सीट से विधायक हैं. अमीनुल ने 2016 में विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के अनामुल हक को हराकर सोनाई सीट जीती थी. उन्‍हें शनिवार को हस्‍तलिखित धमकीभरा खत मिला. बंगाली और लाल स्‍याही से लिखे खत के साथ .32 एमएम पिस्‍तौल की दो गोलियां भी थी.

हिंदुस्‍तान टाइम्‍स अखबार की खबर के अनुसार, अमीनल हक ने बताया कि खत 22 मई को करीमगंज से पोस्‍ट किया गया और यह उन्‍हें नौ जून को मिला. इसमें लिखा गया है कि मुसलमान होने के बावजूद उन्‍होंने बीजेपी का साथ चुना. इसमें आरोप लगाया है कि उन्‍होंने मई महीने में बराक वैली में नागरिकता(संशोधन) बिल 2016 का विरोध नहीं किया. विधायक ने आरोप लगाया कि संभव है कि यह खत अवैध व्‍यापार के सिंडिकेट या भूमाफिया की ओर से भेजा गया हो.

उन्‍होंने सिलचर थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. घटना के बाद राज्‍य सरकार ने विधायक की सुरक्षा भी बढ़ा दी है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. बता दें कि असम सरकार ने अवैध रूप से राज्‍य में बसे हुए बांग्‍लादेशियों को निकालने के लिए नागरिकता कानून लागू करने का फैसला किया है. इसके विरोध में राज्‍य में काफी प्रदर्शन हो रहे हैं. बता दें कि राज्‍य में पहली बार बीजेपी ने सरकार बनाई है.
साभार- न्यूज़ 18

Top Stories