असम: राज्यसभा की दोनों सीटों पे कांग्रेस का क़ब्ज़ा

असम: राज्यसभा की दोनों सीटों पे कांग्रेस का क़ब्ज़ा

गुवाहाटी: असम में सत्तारूढ़ कांग्रेस ने भाजपा एवं क्षेत्रीय दल बोडो पीपुल्स फ्रंट के एक एक सदस्य के क्रास वोटिंग से मिले अतिरिक्त सहयोग के चलते राज्य की दोनों राज्यसभा सीटें आज जीत ली। यह अगले माह प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले उसके लिए प्रोत्साहन भरा घटनाक्रम है।

कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव में अपने वरिष्ठ नेताओं रिपुन बोरा एवं रानी नराह को उतारा था।

असम विधानसभा के प्रमुख सचिव मृगेन्द्र कुमार डेका ने यहां पीटीआई भाषा को बताया कि कांग्रेस ने दोनों सीटे जीत ली हैं। निर्दलीय उम्मीदवार महावीर प्रसाद जैन को कोई वोट नहीं मिला।

विस्तृत ब्यौरा देते हुए डेका ने बताया कि कांग्रेस के 66 विधायकों, एआईयूडीएफ के 17 विधायकों, भाजपा एवं बीपीएफ के एक एक विधायकों ने राज्यसभा चुनाव में अपना वोट दिया।

गलत निशान लगाने के कारण कांग्रेस का एक वोट अमान्य हो गया जबकि शेष वोट बोरा एवं नराह के पक्ष में गये।

डेका ने बताया कि अगप एवं भाजपा एवं बीपीएफ के शेष सदस्यों ने मतदान में भाग नहीं लिया।

मुख्यमंत्री तरूण गोगोई ने शाम को संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘‘राज्य के लोग अब महसूस करेंगे कि मुझे पार्टियों के बीच भी समर्थन प्राप्त है।’’ राज्यसभा में असम से कांग्रेस की नाजनीन फारूक एवं पंकज बोरा का अगले माह कार्यकाल पूरा होने के कारण यह चुनाव करवाए गये।

Top Stories