Sunday , January 21 2018

असातिज़ा के तक़र्रुत के लिए डी एससी का जल्द इनइक़ाद

रियासत के नौ तक़र्रुर करदा डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर कडेम श्रीहरी ने अपने ओहदे का जायज़ा हासिल करलिया। श्रीहरी सेक्रेट्रियट के डी बलॉक पहूंचे और अपने ओहदे का जायज़ा हासिल करलिया।

रियासत के नौ तक़र्रुर करदा डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर कडेम श्रीहरी ने अपने ओहदे का जायज़ा हासिल करलिया। श्रीहरी सेक्रेट्रियट के डी बलॉक पहूंचे और अपने ओहदे का जायज़ा हासिल करलिया।

उन्होंने तक़रीब जायज़ा के बाद मीडीया से बातचीत करते हुए इस बात का यकीन दिया कि वो महिकमा तालीम के काम काज में शफ़्फ़ाफ़ियत और जवाबदेही को यक़ीनी बनाएंगे।

उन्होंने कहा कि चीफ़ मिनिस्टर ने उन्हें जिस यक़ीन के साथ ये क़लमदान सौंपा है वो उसे पूरी ज़िम्मेदारी के साथ निभाऐंगे। उन्होंने कहा कि वो अपने दौर में के जी से पी जी तक मुफ़्त तालीम के मंसूबा और स्कीम पर अमल आवरी को यक़ीनी बनाने को तर्जीह देंगे।

उन्होंने कहा कि वो डिस्ट्रिक्ट स्लेक्शन कमेटी ( डी एससी ) के ज़रीये रियासत में असातिज़ा ( टीचर्स ) के तक़र्रुत के अमल में भी तेज़ी लाएंगेगे। उन्होंने इंटरमीडीएट इमतेहान एमसेट और दूसरे कॉमन एंट्रेंस टेस्टस के इनइक़ाद में तनाज़आत को ख़त्म करने पड़ोसी रियासत आंध्र प्रदेश के साथ तआवुन-ओ-इश्तिराक की भी वकालत की।

उन्होंने तेलंगाना के तलबा को मश्वरह दिया कि वो अपने आप में मसहबिकती जज़बा पैदा करें और मुल्क में सब से बेहतरीन बन कर उभरीं। एन एस एस के बमूजब उन्होंने कहा कि महिकमा तालीम के मसाइल और चैलेंजस से निमटने के लिए भी मूसिर इक़दामात किए जाऐंगे।

उन्होंने कहा कि वो अपनी कोशिशों से टी आर एस पार्टी और हुकूमत की नेकनामी में इज़ाफे की कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा कि महिकमा तालीम में शफ़्फ़ाफ़ और जवाबदेह ख़िदमात को यक़ीनी बनाने वो ओहदेदारों और माहिरीन तालीम-ओ-दानिश्वरों से मुशावरत भी करेंगे। उनके जायज़ा लेने की तक़रीब में रियासती वुज़रा एन नरसिम्हा रेड्डी ( दाख़िला ) अटाला राजिंदर(फाइनैंस ) टी हरीश राव‌ ( आबपाशी ) पी श्रीनिवास रेड्डी (ज़राअत) और जी जगदीश रेड्डी (तवानाई) भी मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT