Tuesday , December 19 2017

असातिज़ा तकर्रुरी में बढ़ जाएंगे 20 हजार दरख्वास्तगुज़ार

उम्र की मुद्दत में छूट को काबीना की मंजूरी के बाद प्राइमरी असातिज़ा तकर्रुरी अमल में अब तकरीबन 20 हजार दरख्वास्तगुज़ार बढ़ जाएंगे। पहली से पांचवीं की असातिज़ा तकर्रुरी की अमल में दरख्वास्तगुज़ार ज़्यादा बढ़ेंगे, जबकि छठी से आठवीं की त

उम्र की मुद्दत में छूट को काबीना की मंजूरी के बाद प्राइमरी असातिज़ा तकर्रुरी अमल में अब तकरीबन 20 हजार दरख्वास्तगुज़ार बढ़ जाएंगे। पहली से पांचवीं की असातिज़ा तकर्रुरी की अमल में दरख्वास्तगुज़ार ज़्यादा बढ़ेंगे, जबकि छठी से आठवीं की तकर्रुरी अमल में पहले से ही पांच साल की छूट दिए जाने की वजह से ज़्यादा से ज़्यादा उम्र मे असल तौर से दो साल की ही इजाफा हुई है।

जेनरल कोटे के दरख्वास्तगुज़ार अब 42 साल की उम्र तक दरख्वास्त कर सकेंगे। पसमानदा और इंतेहायी पसमानदा तबके के दरख्वास्तगुज़ार के लिए उम्र की ज़्यादा से ज़्यादा मुद्दत अब 44 साल हो गई है। इसी तरह एसटी एससी के दरख्वास्तगुज़ार की ज़्यादा से ज़्यादा उम्र 40 साल से बढ़ाकर 47 साल कर दी गई है।

इसी तरह किसी भी तबके की खातून उम्मीदवार के लिए उम्र की ज़्यादा से ज़्यादा मुद्दत 38 साल से बढ़ाकर 45 साल कर दी गई है। पारा असातिज़ा अब 50 की जगह 57 साल की उम्र तक तकर्रुरी के लिए दरख्वास्त दे सकेंगे। उम्र के लिए कट ऑफ डेट एक अगस्त, 2015 रखी गई है।

TOPPOPULARRECENT