Sunday , February 18 2018

असेंबली में हुकूमत के रवैया के ख़िलाफ़ क़ाइद अपोज़ीशन की सख़्त ब्रहमी

तेलंगाना असेंबली में हुकूमत के रवैया के ख़िलाफ़ क़ाइद अपोज़ीशन जाना रेड्डी ने सख़्त ब्रहमी का इज़हार किया और कांग्रेस अरकान ने ऐवान से वाक आउट कर दिया। उन्होंने रोज़ाना अपोज़ीशन की तहरीकात इल्तवा को नामंज़ूर करने की रिवायत की मुख़ालिफ़त की और कहा कि अहम तरीन मसाइल पर मबनी तहरीकात इल्तवा को मुबाहिस के लिए क़ुबूल किया जाना चाहीए।

उस्मानिया यूनीवर्सिटी तलबा की जानिब से सरकारी जायदादों पर तक़र्रुरात का मुतालिबा करते हुए किए जा रहे एजीटेशन के मसअले पर कांग्रेस ने तहरीक इल्तवा पेश की थी जिसे स्पीकर ने नामंज़ूर कर दिया। क़ाइद अपोज़ीशन ने स्पीकर के फ़ैसले पर सख़्त एतराज़ जताया और इल्ज़ाम आइद किया कि हुकूमत तेलंगाना तहरीक के दौरान अवाम से किए गए वादों को टालने की कोशिश कर रही है।

एक मरहले पर जाना रेड्डी सख़्त ब्रहम हो गए जब वज़ीरे फ़ाइनेन्स ई राजिंदर ने कहा कि कांग्रेस को तक़र्रुरात के मसअले को मौज़ू बहस बनाने का कोई अख़्तियार नहीं है। स्पीकर की जानिब से तहरीकात इल्तवा को नामंज़ूर करने के ऐलान के बाद जाना रेड्डी ने कहा कि तेलंगाना के बेरोज़गार नौजवानों को उम्मीद थी कि नई रियासत में उन्हें रोज़गार हासिल होगा। तलबा का एहतेजाज शिद्दत अख़्तियार कर चुका है और तलबा पर पुलिस ने लाठी चार्ज किया।

हुकूमत को चाहीए कि वो तक़र्रुरात के सिलसिले में अपने मौक़िफ़ की असेंबली में वज़ाहत करें। उन्हों ने तक़र्रुरात के मसअले पर मुख़्तसर मुद्दती मुबाहिस की मांग की। हुकूमत के रवैया के ख़िलाफ़ बतौरे एहतेजाज कांग्रेस अरकान ने ऐवान से वाक आउट कर दिया।

बी जे पी फ़्लोर लीडर डॉक्टर लक्ष्मण ने कहा कि चीफ़ मिनिस्टर ने 1 लाख 7 हज़ार तक़र्रुरात का ऐलान किया था लेकिन इस वाअदा पर अमल आवरी का आग़ाज़ नहीं हुआ।

TOPPOPULARRECENT