Thursday , December 14 2017

अस्करीयत पसंदों के नक़ज़-ए-अमन का अंदेशा : फ़ौज

फ़ौज के एक आला सतही कमांडर ने आज सयान्ती अफ़्वाज, सुराग़ रसां महकमों और शहरी इंतेज़ामीया से ख़ाहिश की कि चौकसी इख्तेयार करें और इंतिबाह दिया कि अस्करीयत पसंद जम्मू-ओ-कश्मीर के इलाक़ा में नक़ज़-ए-अमन पैदा कर सकते हैं।

फ़ौज के एक आला सतही कमांडर ने आज सयान्ती अफ़्वाज, सुराग़ रसां महकमों और शहरी इंतेज़ामीया से ख़ाहिश की कि चौकसी इख्तेयार करें और इंतिबाह दिया कि अस्करीयत पसंद जम्मू-ओ-कश्मीर के इलाक़ा में नक़ज़-ए-अमन पैदा कर सकते हैं।

जनरल ऑफीसर कमांडिंग वाईट नाईट कौर लेफ्टीनेन्ट जनरल ए एस ननदल ने कोर ग्रुप के एक इजलास की सदारत करते हुए जो शहर जम्मू के मज़ाफ़ाती इलाक़ा नगरोटा में मुनाक़िद किया गया था, कहा कि ताज़ा तरीन तब्दीलीयों के पेशे नज़र चौकसी इख्तेयार करना ज़रूरी है क्योंकि अंदेशा है कि दहश्तगर्द इस इलाक़ा के अमन को दिरहम ब्रहम कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि दहश्तगर्दी में इन्हेतात आला सतही ग़लबा का नतीजा है और रियासत में तमाम फ़ौजी महकमों ने मोअस्सर कारकर्दगी का मुज़ाहरा किया है।

ताहम हमें इस पर मुतमईन नहीं होना चाहीए क्योंकि दहश्तगर्दों के अज़ाइम के बारे में कोई पेश क़ियासी नामुमकिन है। ख़त क़ब्ज़ा के इस पार उन के इंफ्रास्ट्रक्चर हनूज़ महफ़ूज़ हैं।

लेफ्टीनेन्ट जनरल ननदल गवर्नर के मुशीर सलामती भी हैं। उन्होंने सयान्ती अफ़्वाज, सुराग़ रसां महकमों और शहरी इंतिज़ामीया को अमन-ओ-हम आहंगी बरक़रार रखने पर तहनियत पेश की और कहा कि उन्होंने इलाक़ाई दाख़िली सलामती को दरपेश चैलेंजों को कामयाबी से मुक़ाबला किया है। इजलास की मुशतर्का सदारत डायरेक्टर जनरल पुलिस कुलदीप खोडा ने की।

इजलास में आला सतही ओहदेदार जिनका ताल्लुक़ मुख़्तलिफ़ सयान्ती महकमों से था, शरीक थे। सरहदी रियासत जम्मू-ओ-कश्मीर के एक फ़ौजी कमांडर का ये ब्यान कांग्रेस के पाकिस्तानी तालिबान के बारे में अंदेशों के इज़हार की बिना पर एहमीयत का हामिल है।

TOPPOPULARRECENT